पतंजलि श्वेत मूसली चूर्ण Patanjali Swet Mushli Churna Uses, Benefits, Side Effects, Dosage, Warnings in Hindi

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण Patanjali Swet Mushli in Hindi, में सफ़ेद मुस्ली की जड़ का पाउडर है। सफ़ेद मुस्ली एक फर्टिलिटी टॉनिक है जो दिमाग, नसों और प्रजनन अंगों को ताकत देती है। यह शरीर के सभी टिश्यू पर काम करने वाली जड़ी बूटी है जोकि प्लाज्मा और प्रजनन अंगों पर काम करती है।

सफ़ेद मुस्ली में रसायन, जीवनीय, वाजीकारक, शुक्रल, ओजवर्धक, पित्तशामक और स्तन्य गुण हैं। इसके सेवन से शरीर में सूजन कम होती है। शुक्रवर्धक गुणों के कारण यह वीर्य को गाढ़ा करती है और शीघ्रपतन, बांझपन, नपुंसकता, और कम स्पर्म काउंट में लाभप्रद है। मुस्ली पौष्टिक टॉनिक है जो वजन को बढ़ाने में सहायक है। मूसली के सेवन से शरीर में ठंडक आती है जिससे पेशाब की जलन, पेट की जलन, अधिक पित्त की समस्या और पेशाब की बदबू में फायदा होता है।

  • आदमियों की यौन दिक्कत में मूसली को प्रजनन अंगों की समस्या में अश्वगंधा, बला, केवांच, गोखरू और गिलोय के साथ दिया जाता है।
  • औरतों की समस्या में इसे शतावर, हल्दी, मुलेठी और बला के साथ दिया जाता है। यह कॉम्बिनेशन, योनि से डिस्चार्ज की समस्या, ड्राईनेस, और बाँझपन में लाभप्रद है। सौंफ, अजवाइन, के साथ लेने से यह दूध की मात्रा को बढ़ाती है।
  • आँतों की सूजन में इसे आंवले, मंजीठ, लिकोरिस के साथ देते हैं।

दवा के बारे में इस पेज पर जो जानकारी दी गई है वह इसमें प्रयुक्त जड़ी-बूटियों के आधार पर है। हम इस प्रोडक्ट को एंडोर्स नहीं कर रहे। यह दवा का प्रचार नहीं है। हमारा यह भी दावा नहीं है कि यह आपके रोग को एकदम ठीक कर देगी। यह आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती हैं और नहीं भी। दवा के फोर्मुलेशन के आधार और यह मानते हुए की इसमें यह सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, इसके लाभ बताये गए हैं। मार्किट में इसी तरह के फोर्मुले की अन्य फार्मसियों द्वारा निर्मित दवाएं उपलब्ध हैं। इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। हमारा उद्देश्य दवा के लेबल के अनुसार आपको जानकारी देना है।

Loading...

Swet Mushli (Patanjali) is Herbal Ayurvedic medicine. It is indicated in improving fertility. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • दवा का नाम: पतंजलि श्वेत मूश्ली Patanjali Safed (Swet) Musli Churna, Patanjali Swet Musli Churna, Divya Shvet Musli Powder, Safed Musli Ramdev
  • निर्माता: पतंजलि
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल
  • मुख्य उपयोग: वाजीकरण
  • मुख्य गुण: बल वर्धक, पौष्टिक, कामोद्दिपक
  • मूल्य MRP:  Patanjali Swet Musli Churna 100 gram @ Rs 325.00

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के घटक Ingredients of Patanjali Swet Mushli

पतंजलि श्वेत मुस्ली चूर्ण में सफ़ेद मुस्ली की जड़ का पाउडर है। श्वेत मुस्ली, कंद के जड़ कई रोगों के उपचार में फायदेमंद होते हैं। यह कामोद्दीपक गुणों से भरपूर है। इसके शक्तिशाली कामोत्तेजक गुणों के कारण मूसली को पुरुषों के लिए विशेष रूप से उपयोगी माना गया है। इसमें प्रोटीन काफी अधिक है, जो शरीर को मजबूत करती है।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के लाभ/फ़ायदे Benefits of Patanjali Swet Mushli

इसके सेवन से स्तम्भन दोष जिसे इरेक्टाइल डिसफंक्शन भी कहते हैं, में भी लाभ हो सकता है। यह उत्तम वाजीकारक हैं और कामेच्छा शक्ति को बढ़ाती है।

Loading...

टेस्टोस्टेरोन पुरुषों के वृषण और एड्रेनल ग्लैंड से स्रावित होने वाला एंड्रोजन समूह का एक स्टीरॉएड हार्मोन है। यह प्रमुख पुरुष हॉर्मोन है जो की एनाबोलिक स्टीरॉएड है। टेस्टोस्टेरॉन पुरुषों में उनके प्रजनन अंगों के सही से काम करने और पुरुष लक्षणों जैसे की मूंछ-दाढ़ी, आवाज़ का भारीपन, ताकत आदि के लिए जिम्मेदार है। यदि टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो जाता है तो यौन प्रदर्शन पर सीधे असर पड़ता है, जैसे की इंद्री में शिथिलता, कामेच्छा की कमी, चिडचिडापन, आदि। मूसली के सेवन से शरीर में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को सुधारने में मदद होती है।

मुसली को हर्बल वियाग्रा के रूप में जाना जाता है। यह पुरुष प्रजनन प्रणाली को दुरुस्त करती है। मुसली की जड़ों को पुरुषों की यौन कमजोरी दूर करने के लिए पारंपरिक रूप से इस्तेमाल किया जाता है। यह पुरुषों में यौन कमजोरी के लिए एक पोषक टॉनिक के रूप में कार्य करती है।

Loading...

यह शक्तिवर्धक, जोश वर्धक, और वाजीकारक औषधि है। इसके सेवन से प्रजनन अंगों को ताकत मिलती है और यौन दुर्बलता दूर होती है।

शरीर में यदि कमजोरी है तो सेक्स परफॉरमेंस भी कमजोर होगा।  मूसली प्रजनन अंगों को पुष्ट करती है और वीर्य की मात्रा और गुणवत्ता में सुधार करते हैं। शुक्राणुओं के संख्या में इसके सेवन से वृद्धि संभव है।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के चिकित्सीय उपयोग Uses of Patanjali Swet Mushli

आयुर्वेद की मुख्य 8 शाखाएं हैं, इनमें से वाज़ीकरण यौन-क्रियायों की विद्या तथा प्रजनन Sexology and reproductive medicine चिकित्सा से सम्बंधित है। वाज़ीकरण के लिए उत्तम वाजीकारक वनस्पतियाँ और खनिजों का प्रयोग किया जाता है जो की सम्पूर्ण स्वास्थ्य को सही करती हैं और जननांगों पर विशेष प्रभाव डालती है। आयुर्वेद में प्रयोग किये जाने वाले उत्तम वाजीकरण द्रव्यों में मूसली शामिल है। यह द्रव्य कामोत्तेजक है, स्नायु, मांसपेशियों की दुर्बलता, को दूर करने वाले है तथा धातु वर्धक, वीर्यवर्धक, शक्तिवर्धक तथा बलवर्धक हैं।

सफेद मूसली चूर्ण, नपुंसकता impotency, धातुक्षीणता, शीघ्रपतन premature ejaculation, यौनविकार sexual disorders, seminal diseases आदि को दूर करने की एक नेचुरल दवा है। यह डायबिटीस diabetes के बाद होने वाली नपुंसकता की शिकायतों में भी लाभप्रद है।

  • तनाव, गठिया, मधुमेह
  • थकावट, स्टैमिना कम होना fatigue
  • दस्त, पेचिश, पेशाब में दर्द (dysuria)
  • परुषों के यौन रोग (इरेक्टाइल डिसफंक्शन erectile dysfunction, सूजाक sujak, इन्द्रिय शिथिलता, शीघ्रपतन, वीर्य क्षय, यौन दुर्बलता, कम शुक्राणु low sperm count)
  • पुरुष बाँझपन male infertility
  • प्रतिरक्षा-सुधार immunity improvement, टॉनिक, बॉडीबिल्डिंग में उपयोगी useful in bodybuilding
  • बल और ताकत की कमी low strength-stamina
  • मांसपेशियों में कमजोरी muscles weakness
  • यौन दुर्बलता Male Sexual Weakness
  • यौन प्रदर्शन में सुधार, कामोद्दीपक, सेक्स टॉनिक
  • लिबिडो कम होना कामेच्छा की कमी Low Libido
  • वाजीकरण improving Sexual Desire
  • वीर्य और शुक्र की कमी low semen volume, low sperm count
  • शरीर पर चर्बी की कमी, बहुत पतला होना emaciation
  • शीघ्रपतन Premature Ejaculation
  • शुक्र कीटों को बढ़ाना increasing Sperm Count
  • संधिशोथ, मधुमेह, बवासीर और रजोनिवृत्ति सिंड्रोम के लिए उपयोगी
  • समय से पहले बाल गिरना premature hair fall
  • सामान्य दुर्बलता (शारीरिक कमजोरी) और नपुंसकता impotency
  • सेक्सुअल टॉनिक sexual tonic
  • स्तनपान कराने वाली माताओं में दूध बढ़ाने के लिये
  • स्तम्भन दोष Erectile Dysfunction
  • स्त्रियों में इसका प्रयोग सफ़ेद पानी/श्वेत प्रदर leucorrhoea के इलाज और दूध बढ़ने के लिये किया जाता है। प्रसव और प्रसवोत्तर समस्याओं के लिए एक उपचारात्मक रूप में भी इसका प्रयोग होता है।
  • स्वप्नदोष Nocturnal Emission (Night Fall)

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Patanjali Swet Mushli

  • 1 चम्मच/5 ग्राम, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • इसे दूध के साथ लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के इस्तेमाल में सावधनियाँ Cautions

  • इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  • मूसली के सेवन से कफ बढ़ता है।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के साइड-इफेक्ट्स Side effects

  • निर्धारित खुराक में लेने से दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं है।
  • यदि इसे लेने से कब्ज़ होता है, तो त्रिफला, इसबगोल की भूसी आदि का सेवन कर सकते हैं।
  • पानी की सही मात्रा पिएं।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण को कब प्रयोग न करें Contraindications

शरीर में यदि बहुत अधिक बलगम, छाती में जकड़न, और ama/आम हो तो इसका प्रयोग न करें।

भंडारण निर्देश

  • सूखी जगह में स्टोर करें।
  • इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
Loading...

2 thoughts on “पतंजलि श्वेत मूसली चूर्ण Patanjali Swet Mushli Churna Uses, Benefits, Side Effects, Dosage, Warnings in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.