मन्मथ रस Manmath Ras Detail and Uses in Hindi

मन्मथ रस, एक आयुर्वेदिक दवाई है जिसे पारद, गंधक, भस्मों और जड़ी-बूटियों द्वारा निर्मित किया गया है। कामदेव, प्रेम के देवता हैं और मन्मथ भी उन्ही का एक नाम है। इस रस औषधि का नाम कामदेव पर रखा गया है क्योंकि इसका सेवन वाजीकारक और विभिन्न तरह के यौन रोगों को नष्ट करने वाला है। यह दवाई विशेष रूप से पुरुषों के लिए उपयोगी है। पुरुषों द्वारा इसका सेवन नाड़ियों की कमजोरी को दूर करता और स्तम्भन तथा कामेच्छा को बनाए रखता है। स्त्रियों द्वारा इसका सेवन श्वेत प्रदर को दूर करता है। इसके सेवन से गर्भाशय मज़बूत हो जाता है तथा ओवरी की कमजोरी, शिथिलता भी दूर हो जाती है। यह स्त्रियों की गर्भधारण की शक्ति को बढ़ाता है।

Loading...

Manmath Ras is a herbomineral Ayurvedic medicine used specially for treating male sexual disorders such as impotence, premature ejaculation, erection problsm, watery semen, weaknesss etc. It is a Rasa Aushadhi and contains mercury. Therefore it should be taken under medical supervision.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

मन्मथ रस के घटक Ingredients of Manmath Ras

Each 48 gram: शुद्ध (purified) पारद, शुद्ध गंधक

  • 24 gram: अभ्रक भस्म
  • 12 gram: शुद्ध कर्पूर, वांग भस्म, लोह भस्म
  • 6 gram: ताम्र भस्म
  • Each: 3 gram विधारा रूट्स, जीरक, विदारीकन्द, शतावरी, तालमखाना, बालमुला, केवाँच बीज, अतीश, जावित्री, जायफल, लवंग, शुद्ध भांग बीज, राल सफ़ेद और अजवाइन

मन्मथ रस के लाभ/फ़ायदे Benefits of Manmath Ras

  • यह दवा उत्तम रसायन है।
  • इसका सेवन शरीर में बल, ताकत, और यौन क्षमता की वृद्धि करता है।
  • इसके सेवन से परुषों के जननअंगों को ताकत मिलती है।
  • यह कामेच्छा को बढ़ाता है।
  • इसके सेवन वीर्यवाहिनी नाड़ियों की कमजोरी दूर होती है और समागम काल बढ़ता है।
  • यह शुक्र को गाढ़ा करता है।
  • यह इन्द्रियों को ताकत देता है।
  • यह पूरे शरीर को ताकत देता है।
  • इसके सेवन शरीर में ज़रूरी अवयवों की आपूर्ति होती है।
  • यह खून की कमी को दूर करता है।
  • इसके सेवन से शरीर में कान्ति आती है।

मन्मथ रस के चिकित्सीय उपयोग Uses of Manmath Ras

  • यौन ताकत की कमी
  • वीर्यवाहिनी नाड़ियों की कमजोरी
  • नपुंसकता (Impotence)
  • नामर्दी (Erectile Dysfunction)
  • शीघ्र पतन (Premature ejaculation/Early Discharge)
  • वीर्य का पतला होना
  • पेनिस पर छाले

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Manmath Ras

  • 1 गोली, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • इसे गाढ़े किये हुए दूध के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

Do not use this medicine for longer period without consulting a doctor.

Please note, the doses of Ayurvedic medicines are not fixed. Exact dose depends on the age, strength, digestive power of the patient, the nature of the illness, the state of the viscera and humours, and the properties of individual drugs.

loading...

Ayurvedic medicines containing detoxified substances, heavy metals should be taken only under medical supervision.

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है। You can buy this medicine online or from medical stores.

This medicine is manufactured by Baidyanath (Manmath Ras), Prince Pharma (Manmath Ras), Vyas (Manmath Ras) and many other Ayurvedic pharmacies.

loading...

4 thoughts on “मन्मथ रस Manmath Ras Detail and Uses in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*