दशांग लेप चूर्ण Dashang Lepa Usage Detail

दशांग लेप यह एक आयुर्वेदिक मेडीकेटेड लेप है जिसे चर्म रोगों में प्रयोग किया जाता है। लेप, आयुर्वेदिक औषधियों का पेस्ट होता है जिसे बाह्य रूप से एक लेयर की तरह चमड़ी पर विभिन्न रोगों में लगाया जाता है।

औषधीय जड़ी-बूटियों को बारीक पीस कर किसी लिक्विड जैसे की गो घृत, पानी या गो मूत्र में मिलाकर एक मुलायम पेस्ट बना लिया जाता है और प्रभावित त्वचा के हिस्से पर लगाते है। Uses in Hindi

दशांग लेप चूर्ण के दस घटक हैं, यष्ठीमधु, चन्दन, एला, तगर, हरिद्रा, दारूहरिद्रा, जटामांसि, सिरिस, कूठ और हृवेरा। इसे घी के साथ मिलाकर चोट, शोथ, दाह, ज्वर, विसर्प, विस्फोट, कुष्ठ, चर्म रोग, सब प्रकार के शोथ (सूजन), दुष्टव्रण, बुखार में लगाया जाता है। यह उन सभी त्वचा रोगों में बाहरी रूप से लगाया जा सकता है जिनमें सूजन होती है। इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें।

  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल आयुर्वेदिक दवाई
  • मुख्य उपयोग: त्वचा रोग
  • मुख्य गुण: एंटीसेप्टिक, शोथहर

Dashang Lepa Churna is prepared from ten herbal ingredients. It is mixed with Ghee to make a paste which is applied over external wounds. Dashang Lepa helps in inflammatory swelling like as cellulitis, boils, herpes wounds, skin diseases, fever etc. It reduces pain, edema, erythema, tenderness and fever in the patients of cellulitis.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

दशांग लेप के घटक Ingredients of Dashang Lepa

  1. शिरीष छाल Shirisha Albizzia lebbeck 1 Part
  2. मुलेठी जड़ Madhuyashti Glycyrrhiza glabra 1 Part
  3. टगर जड़ Tagara Valeriana wallichii 1 Part
  4. रक्त चन्दन वुड Raktachandnam Pterocarpus santalinus 1 Part
  5. इला बीज Ela Eletteria cardamomum 1 Part
  6. जटामांसी जड़ Jatamansi Nardostachys jatamansi 1 Part
  7. हल्दी कन्द Haridra Curcuma longa 1 Part
  8. दारुहल्दी तना Daruharidra Berberis aristata 1 Part
  9. कुष्ठ जड़ Kushta Saussurea lappa 1 Part
  10. हृवेरा जड़ Hrivera Pavonia odorata 1 Part

दशांग लेप के लाभ/फ़ायदे Benefits of Dashang Lepa

  1. यह बाह्य रूप से लगाया जाने वाला औषधीय लेप है।
  2. यह एंटीसेप्टिक है।
  3. इसे लगाने से सूजन दूर होती है।
  4. यह विभिन्न त्वचा रोगों में लाभप्रद है।
  5. यह घाव को जल्दी भरने में मदद करता है।
  6. यह जोड़ों की सूजन, गाउट, आर्थराइटिस, रुमेटिज्म, सूजन आदि में बाह्य रूप से लगाने के लिए बहुत लाभप्रद है।

दशांग लेप के चिकित्सीय उपयोग Uses of Dashang Lepa

  1. फोड़े Boils
  2. सेल्युलाइटिस (त्वचा के नीचे संयोजी ऊतक की सूजन) Cellulitis
  3. चर्म रोग Diseases of skin
  4. एक्जिमा Eczema
  5. इरिसीपैलस (जीवाणु त्वचा संक्रमण) Erysipelas (bacterial skin infection)
  6. बुखार Fever
  7. फफुंदीय संक्रमण Fungal infection
  8. हरपीज घाव Herpes wounds
  9. ज्यादा पिगमेंटेशन Hyperpigmentation
  10. सूजन Inflammation/swelling
  11. खुजली Itching
  12. एडेमा या जलोदर (ऊतकों में द्रव का निर्माण) Oedema or dropsy
  13. संधिशोथ Rheumatoid arthritis
  14. घाव Wounds

उपयोग विधि

  1. यह लेप केवल बाहरी उपयोग के लिए ही है।
  2. दशांग लेप के पाउडर को गो घृत में मिलाएं और प्रभावित स्थान पर लगायें।
  3. इसे बालों के उगने की विपरीत दिशा में लगाएं।
  4. इसे कई दिन लगातार लगायें।
  5. यदि लगाने पर रैश, खुजली, आदि हो तो इसे न लगाएं।

उपलब्धता

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है।

loading...
  1. Vyas Dashang Lep
  2. Unjha Dashang Lep
  3. Hariras Dashang Lepa Churna
  4. Nirmal Dashang Lep
  5. Jiva Dashang Lepa
  6. Vindhya Herbals Dashang Lep Churna
  7. Bhardwaj Dashang Lep आदि।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*