बेकिंग सोडा Baking Soda in Hindi

बेकिंग सोडा बहुत प्रकार से इस्तेमाल किया जाता है। इसे खाना पकाने, एसिडिटी में आंतरिक रूप से और त्वचा के रंग को सुधारने, ब्लीच की तरह, दाग-धब्बे हटाने, कील-मुहांसे रोकने, ब्लैकहैड, बालों में रूसी आदि में बाह्य रूप से प्रयोग किया जाता है। रासायनिक रूप से यह सोडियम बाईकार्बोनेट या सोडियम हाइड्रोजन कार्बोनेट है। इसे मुख्य रूप से इसके एल्कलाइन करने और कार्बन-डाइऑक्साइड निकालने के गुण के कारण विभिन्न तरह से प्रयोग करते हैं।

baking soda

जब बेकिंग सोडा को चेहरे पर लगाते हैं तो यह त्वचा की एसिडिटी को कम करता है, अतिरिक्त तेल को सुखाता है और मुहांसे, झाईं को कम करता है और कई महीनों के प्रयोग से रंगत को सुधारता है।

बहुत से लोग बेकिंग सोडा को ही बेकिंग पाउडर baking soda And baking powder are different समझते हैं। पर ऐसा नहीं है। बेकिंग सोडा में कोई कमजोर एसिड, जैसे की टार्टारिक एसिड, और स्टार्च डाल कर बेकिंग पाउडर बनाते हैं। दोनों के स्वाद, रंग-रूप, और खाने में डालने पर प्रभाव सभी कुछ अलग होता है। इस पेज पर हमने बेकिंग सोडा के बारे में जानकारी देने की कोशिश की है। पढ़े और जाने इसके बारे में।

बेकिंग सोडा के अन्य नाम: मीठा सोडा, खाने का सोडा

रासायनिक सूत्र: NaHCO3

loading...

बेकिंग सोडा क्या है?  What is Baking Soda?

बेकिंग सोडा केमिकली सोडियम बाइकार्बोनेट NaHCO3 है। बेकिंग सोडा को मीठा सोडा Meetha Soda (Baking Soda), खाने का सोडा के नाम से भी जानते हैं।

बेकिंग पाउडर क्या है?  What Baking Powder?

बेकिंग पाउडर, बेकिंग सोडा (सोडियम बाइकार्बोनेट sodium bicarbonate) + कोई कमज़ोर एसिड + स्टार्च, है।

NaHCO3 + H+ → Na+ + H2O + CO2

बेकिंग सोडा + एसिड से हाइड्रोजन आयन पानी + कार्बन डाइऑक्साइड

जब यह मिक्स पानी में घुलाया जाता है और तापमान बढ़ता है तो CO2 रिलीज़ होती है।

वीक एसिड्स जो की बेकिंग पाउडर में इस्तेमाल होते हैं:

  • क्रीम ऑफ़ टार्टर cream of tartar (potassium hydrogen tartrate)
  • टार्टरिक एसिड tartaric acid
  • एसिड कैल्शियम फॉस्फेट acid calcium phosphate
  • सोडियम एसिड पाईरो फॉस्फेट sodium acid pyrophosphate

बेकिंग पाउडर और बेकिंग सोडा में क्या अंतर है? Difference Between Baking Soda and Baking Powder?

बेकिंग सोडा केमिकली सोडियम बाइकार्बोनेट है जबकि बेकिंग पाउडर Khara Soda or Baking Powder में बेकिंग सोडा (सोडियम बाइकार्बोनेट sodium bicarbonate) + कोई कमज़ोर एसिड + स्टार्च होता है। दोनों कम्पोजीशन में अलग हैं।

बेकिंग सोडा Baking soda (NaHCO3) का रिएक्शन:

2NaHCO3 → Na2CO3 + H2O + CO2

रिएक्शन से ये भी पता लग रहा है की Na2CO3 बन रहा है जो की ज्यादा क्षारीय है और बनने वाली रेसिपी को ज्यादा नमकीन, साबुन जैसा टेस्ट और पीला रंग दे रहा है।

इस मिश्रण से बनी रेसिपी पचने में भी परेशानी कर सकती है। क्योंकि जब Na2CO3 पेट में मौजूद हाइड्रोक्लोरिक एसिड HCl से मिलता है तो पेट में और ज्यादा CO2 निकलती है जिससे गैस बनती है और पाचन तन्त्र की दिक्कतें पेश आती हैं।

बेकिंग पाउडर का रिएक्शन

NaHCO3 + H+ → Na+ + H2O + CO2

जैसा की रिएक्शन दिखा रहा, इस मामले में सोडियम के आयन, पानी और CO2 बन रही है। ये सभी रेसिपी के टेस्ट में कोई अंतर नहीं आने देते।  जब बेकिंग पाउडर का प्रयोग करते हैं तो बनने वाले पदार्थ कम क्षारीय होते है और इसे मिलाने से रेसिपी में स्वाद में कोई अंतर नहीं आता। इसे ओवन में बनने वाली रेसिपी जैसे की केक, बिस्कुट, पेस्ट्री, पाई, आदि में डाला जाता है।

बेकिंग पाउडर रेसिपी में डालने पर कार्बन डाइऑक्साइड निकलने का रेट, बेकिंग पाउडर में मिले एसिड पर निर्भर है। कुछ रेसिपी, जैसे की डोनट में में CO2 को तेज़ रेट यानिकी जल्दी निकालने की ज़रूरत होती है जिससे की वे क्रिस्प बने।

जब बेकिंग सोडा का प्रयोग करते हैं तो रेसिपी में कुछ ज्यादा खटास आती है। बेकिंग सोडा उन रेसिपी में काम करता है जो की खट्टी हों जैसे की जिसमें नींबू, दही, छाछ आदि पड़ा हो ।

बेकिंग सोडा और बेकिंग पाउडर को क्या एक दूसरे के स्थान पर कुकिंग में प्रयोग कर सकते है?

बेकिंग पाउडर को बेकिंग सोडा की जगह इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन बेकिंग सोडा को बेकिंग पाउडर की जगह नहीं।

जैसे आप केक में बेकिंग सोडा डालेंगे तो परिणाम अलग होगें। केक कम फूलेगा यह स्वाद में खटास भरा भी हो सकता है। बेकिंग डिशेस में केवल बेकिंग पाउडर डालें, बेकिंग सोडा नहीं।

बेकिंग सोडा के प्रयोग क्या हैं?

बेकिंग सोडा को कुकिंग में और एंटासिड की तरह प्रयोग करते हैं।

कुकिंग में बेकिंग सोडा का प्रयोग, डिश की पकाने के तुरंत पहले मिलाते हैं। इसको बैटर में डालने से कार्बन डाइऑक्साइड के बुलबुले पैदा होते हैं, जिससे बनने वाली रेसिपी फूलती है और स्पंजी हो जाती है।

बेकिंग सोडा को त्वचा, बालों, समेत बहुत से घरेलू उपचारों में भीप्रयोग करते हैं।

बेकिंग सोडा का एंटासिड की तरह क्यों और कैसे प्रयोग किया जाता है?

मार्किट में उपलब्ध ज्यादातर otc एंटासिड जैसे की इनो ENO, गैसोफ़ास्ट Gasofast आदि में सोडियम बाइकार्बोनेट NaHCO3 या बेकिंग सोडा Svarjiksara होता है। बेकिंग सोडा की लगभग २ ग्राम की मात्रा के साथ उसमें कुछ खट्टा पदार्थ जैसे की सिट्रिक एसिड भी २ ग्राम की मात्रा में डाला जाता है। इसे पीने से एसिडिटी, डकार, अपच आदि के लक्षणों में राहत होती है।

यदि आपको कभी कभी एसिडिटी हो जाए तो, एक गिलास लें। उसमें आधा टीस्पून बेकिंग सोडा डालें, नींबू का रस निचोड़ें पानी डालें और तुरंत पी जाएँ।

यह मिश्रण काम करता है, क्योंकि इसे पीने के बाद यह पेट में मौजूद एसिड HCl की मात्रा CO2 के कारण कम हो जाती है और तुरंत ही आराम हो जाता है।

बेकिंग सोडा लेने के फायदे क्या हैं?

बेकिंग सोडा को दवा की तरह लेने से पेट में एसिडिटी कम हो जाती है और खून एल्कलाइन (क्षार या बेस) हो जाता है। यह खून के pH को बढ़ा देता है। यह खट्टी डकार, अपच आदि में एक घरेलू उपचार की तरह तुरंत लाभ करता है।

बेकिंग सोडा को खाने के नुकसान क्या है?

  1. बेकिंग सोडा को अधिक मात्रा में लेने के कई नुक्सान भी है।
  2. इसमें सोडियम की मात्रा अधिक होती हैं जो की रक्तचाप को बढ़ा देती है।
  3. शरीर में इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन गड़बड़ा सकता है।
  4. बहुत अधिक सोडियम के सेवन से शरीर में पानी का अवधारण भी बढ़ जाता है जिससे इडिमा हो जाता है।
  5. जो भी समस्याएं अधिक सोडियम के कारण होती हैं, वे मीठे सोडे की अधिक मात्रा में सेवन से हो सकती हैं।

बेकिंग सोडा दवा की तरह किसे नहीं लेना चाहिए?

निम्नलिखित रोगों में बेकिंग सोडा को दवा के रूप में प्रयोग नहीं करना चाहिए:

  1. जिन लोगों को कम सोडियम लेने की सलाह दी गई हो।
  2. जिन लोगों को लीवर, हृदय या किडनी का रोग हो।
  3. जिन लोगों में उच्च रक्चाप हो।

क्या प्रेगनेंसी में दवा के रूप में इसे प्रयोग कर सकते हैं?

अमेरिका के FDA ने बेकिंग सोडा को प्रेगनेंसी केटेगरी सी C में रखा है।

इसका पशु प्रजनन या ह्यूमन प्रेगनेंसी में भ्रूण पर प्रभाव, पर स्टडी नहीं की गई है। लेकिन बहुत से विशेषज्ञ इसका गर्भवती महिलाओं में प्रयोग करने का निषेध contraindicate करते हैं क्योंकि यह इलेक्ट्रोलाइट के संतुलन को प्रभावित करता है और दूसरा बहुत सारे बिना नुकसान करने वाले विकल्प उपलब्ध हैं। बहुत सारी महिलाओं में गर्भावस्था में वैसे ही द्रव प्रतिधारण और रक्तचाप बढ़ा हुआ होता है। उन्हें बेकिंग सोडा का दवा की तरह या इनो, गैसोफ़ास्ट आदि OTC एंटासिड का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

बेकिंग सोडा के अन्य उपयोग How to Use Baking Soda as Home Remedy in Hindi

बेकिंग सोडा को घरेलू उपचार की तरह निम्न में प्रयोग किया जा सकता है:

त्वचा के लिए बेकिंग सोडा का प्रयोग Cosmetic Use of Baking Soda

1- चेहरे से दाग-धब्बे हटाने के लिए, त्वचा गोरी करने के लिए hyperpigmentation, skin lightening

  • 2 टीस्पून बेकिंग सोडा में 1 टीस्पून पानी मिलाएं।
  • इसे त्वचा पर दस-पन्द्रह मिनट लगाएं फिर पानी से धो लें। यह प्रयोग सप्ताह में एक बार करें।
  • 1 टी स्पून बेकिंग सोडा में 1 टीस्पून नींबू का रस मिलाएं।
  • इसे त्वचा पर दस-पन्द्रह मिनट लगाएं फिर पानी से धो लें। यह प्रयोग सप्ताह में एक बार करें।
  • यदि यह मिक्स स्किन को बहुत ड्राई करता हो तो इसमें शहद या ओलिव आयल मिला लें।
  • 1 टीस्पून बेकिंग सोडा में, 1 टीस्पून ओलिव आयल, आधा टीस्पून शहद मिलाएं।
  • इसे त्वचा पर दस-पन्द्रह मिनट लगाएं फिर पानी से धो लें। यह प्रयोग सप्ताह में एक बार करें।
  • 1 टीस्पून बेकिंग सोडा में, 3 टीस्पून एप्पल सीडर विनेगर मिलाएं।
  • इसे त्वचा पर दस-पन्द्रह मिनट लगाएं फिर पानी से धो लें। यह प्रयोग सप्ताह में एक बार करें।
  • यदि विनेगर या नींबू का प्रयोग त्वचा पर जलन आदि करता हो इसमें रोज वाटर या पानी मिलाकर लगायें।
  • यदि प्रयोग से त्वचा ड्राई होती हो या ड्राई स्किन हो तो पेस्ट में शहद या तेल मिक्स कर लगायें।
  • त्वचा को धोने के बाद मॉइस्चराइजर लगा लें।

2- फेशिअल स्क्रब exfoliation

तीन पार्ट बेकिंग सोडा को एक पार्ट पानी में मिलाकर स्क्रब की तरह प्रयोग करें।

3- तैलीय त्वचा, मुहांसे निकलना, ब्लैकहेड्स Oily skin, blackheads

बकिंग सोडा को त्वचा पर लगाने से अतिरिक्त तेल दूर होता है, त्वचा ड्राई होती है जिससे तैलीय त्वचा के कारण होने वाले मुहांसे कम होते हैं।

4- कील-मुहांसे, दाग-धब्बे pimples, acne, blemishes

बेकिंग सोडा का पेस्ट प्रभावित स्थान दस मिनट तक लगायें। फिर पानी से धो लें। ऐसा सप्ताह में 2 से 3 बार करें।

5- हाथों को सॉफ्ट बनाना

एक चौड़े मुंह के बर्तन या टब में गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा डालें और इस में हाथ डूबा कर रखें फिर हाथों की सफाई करें।

6- नहाने के पानी में bath water

नहाने के पानी में इसे डाल कर मिलाएं और नहाने में यह पानी प्रयोग करे, इससे पसीने की बदबू और त्वचा से अधिक तेल निकलने की समस्या दूर होती है।

7- मुंह की बदबू bad breath

बेकिंग सोडा पानी में मिलाकर गरारे और कुल्ला करें।

8- बालों में डेंड्रफ Dandruff

शैम्पू में १ चम्मच बेकिंग सोडा मिलाकर बालों को धोएं। ऐसा महीने में केवल एक बार करें, नहीं तो यह बालों को ड्राई कर देगा।

9- मधुमक्खी के काटने पर, चींटी के काटने पर, अन्य कीटों के काटने पर Poisonous sting / insect bite

यदि किसी स्थान पर मधुमक्खी काट ले तो प्रभावित जगह पर बेकिंग सोडा रगड़ें। ऐसा करने से बेकिंग सोडा के एल्कलाइन प्रभाव के कारण कीट के काटे स्थान पर कीट द्वारा निकाला गया एसिड कम होगा और जलन में आराम होगा।

अन्य प्रयोग 

१- वाश बेसिन, बाथ टब की सफाई cleaning wash basin

बेकिंग सोडा को स्पंज पर लें और रगड़ते हुए साफ़ करें।

२- फ्रिज में गंध smelly refrigerator

एक कटोरी में बेकिंग सोडा डालक्र फ्रिज में रख दें।

३- एसिड गिर जाना battery acid

यदि कहीं पर एसिड जैसे की बैटरी एसिड, गिर जाए तो तुरंत बेकिंग सोडा डाल दें।

4- बर्तनों की सफाई cleaning utensils

बरतन में यदि तेल, चिकनाहट हो तो इससे साफ़ करें। इसका प्रयोग बर्तनों में चमक लाता है।

5- ब्रोंज / कांसे को साफ़ करना Bronze Cleaning

एक चम्मच बेकिंग सोडा + नींबू, मिलाएं। इस पेस्ट को कांसे पर लगायें और रगड़ें। जब चमक आ जाये तो इसे पानी से धोकर पोंछ दें।

6- नाली जाम हो जाना clogged drain of wash basin

एक कप बेकिंग सोडा और सिरका मिलाकर, ड्रेन में डालें और फिर गर्म पानी डाल दें।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*