हबूब मुक़व्वी मेदा Habub Muqawwi Meda Detail and Uses in Hindi

Loading...

हबूब मुकवी मेदा, यूनानी दवाई है जिसे वज़न कम करने, पेट साफ़ करने, पाचन सुधारने और आंतों के कार्यों को नियंत्रित करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।

दवा के बारे में इस पेज पर जो जानकारी दी गई है वह इसमें प्रयुक्त जड़ी-बूटियों के आधार पर है। हम इस प्रोडक्ट को एंडोर्स नहीं कर रहे। यह दवा का प्रचार नहीं है। हमारा यह भी दावा नहीं है कि यह आपके रोग को एकदम ठीक कर देगी। यह आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती हैं और नहीं भी। दवा के फोर्मुलेशन के आधार और यह मानते हुए की इसमें यह सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, इसके लाभ बताये गए हैं। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। हमारा उद्देश्य दवा के लेबल के अनुसार आपको जानकारी देना है।

Habub Muqawwi Meda is Herbal Unani medicine. It is indicated in treatment of obesity and constipation. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • दवा का नाम: Haboob Muqawwi-e-Meda, Haboob Muqawwi-E-Meda Tab,
  • निर्माता: Hamdard
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल यूनानी
  • मुख्य उपयोग: मोटापा कम करना, पाचन ठीक करना और मोटापा कम करना
  • मुख्य गुण: पाचक, विरेचक
  • गर्भावस्था में प्रयोग: नहीं करें
  • मूल्य MRP: Hamdard Habub Muqawwi Meda 1 बोतल 100 गोली @ ₹86

हबूब मुक़व्वी मेदा के घटक Ingredients of Habub Muqawwi Meda

Each pills of approx. 780mg contains:

  • अजवाइन Ajwain (Trachysprmum ammi) 7.00%
  • अगर Agar Hindi (Aquilaria Agallocha) 0.9%
  • बड़ी इलाइची Ilaichi Kalan (Amomum Subulatum) 7.0%
  • सूखा आंवला Amla Khushk ( mblica officinalis) 7.0%
  • पिप्पली Peepal Kalan (Piper Longum) 8.6%
  • कूठ Qust Shirin (Saussurea hypoleuca) 5.5%
  • सोया Tukhm Soya (Anethum Sowa) .5%
  • चित्रक Chita Lakri (Plumbago zeylanica) 4.5%
  • दालचीनी Taj Qalmi (Cinnamomum cassia) 2.5%
  • सोंठ Zanjabeel (Zingiber officinale) 7.0%
  • सनाए Sana Makki (Cassia Angustifolia) 7.0%
  • काली मिर्च Filfil Siyah (Piper Nigrum) 7.0%
  • सांभर नमक Namak Sambhar 7.0%
  • काला नमक Namak Siyah 7.0%
  • नामक शोरा Namak Shore 7.0%
  • नमक शीशा Namak Shisha 7.0%
  • हरीतकी Halela Siyah (Terminalia Chebula) 4.5%

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

  • विरेचन: द्रव्य जो पक्व अथवा अपक्व मल को पतला बनाकर अधोमार्ग से बाहर निकाल दे।
  • वातहर: द्रव्य जो वातदोष निवारक हो।
  • अनुलोमन: द्रव्य जो मल व् दोषों को पाक करके, मल के बंधाव को ढीला कर दोष मल बाहर निकाल दे।

हबूब मुक़व्वी मेदा के लाभ/फ़ायदे Benefits of Habub Muqawwi Meda

  • यह दवाई विरेचक है।
  • यह कब्ज़ को दूर करती है।
  • इसके सेवन से शरीर में जमी गंदगी दूर होती है।
  • इसके प्राकृतिक तत्व मल को नरम करते हैं और आंत्र गतिशीलता को बढ़ाते हैं, जो तीव्र और पुरानी कब्ज प्रभावी रूप से राहत देते हैं।

हबूब मुक़व्वी मेदा के चिकित्सीय उपयोग Uses of Habub Muqawwi Meda

  • कब्ज़
  • पाचन की कमजोरी
  • गैस
  • भूख नहीं लगना
  • पेट सही से साफ नहीं होना
  • खाना ठीक से नहीं पचना, शरीर को नहीं लगना

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Habub Muqawwi Meda

  • 1-2 गोली, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • यदि जुलाब की तरह लेना है तो 4 गोली लें।
  • इसे शहद, दूध, पानी के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

हबूब मुक़व्वी मेदा के इस्तेमाल में सावधनियाँ Cautions

  • इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  • इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  • यह पित्त को बढ़ाता है। इसलिए पित्त प्रकृति के लोग इसका सेवन सावधानी से करें।
  • इस दवा में विरेचक गुण हैं।
  • पीने के लिए हल्का गर्म पानी लें।

हबूब मुक़व्वी मेदा के साइड-इफेक्ट्स Side effects

  • निर्धारित खुराक में लेने से दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं है.
  • इससे कुछ लोगों में पेट में जलन हो सकती है।
  • यह एक दवा है, इससे तुरंत जादुई असर नहीं होगा। दवा के साथ साथ खाने-पीने पर नियंत्रण और व्यायाम आवश्यक है।

हबूब मुक़व्वी मेदा को कब प्रयोग न करें Contraindications

  • इसे गर्भावस्था के दौरान न लें।
  • यदि दवा से किसी भी तरह का एलर्जिक रिएक्शन हों तो इसका इस्तेमाल नहीं करें।
  • अधिक मात्रा में सेवन पेट में जलन, एसिडिटी, आदि समस्या कर सकता है।
  • इसमें नमक है, इसलिए जिसे उच्च रक्तचाप हो, कम नमक लेने की सलाह हो, वे लोग इसका सेवन न करें।
  • दस्त होने पर इसे इस्तेमाल न करें।
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*