हमदर्द बलूती के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि और प्राइस

बलूती, हमदर्द लैब द्वारा निर्मित एक यूनानी दवाई है। इसे पेशाब नहीं रोक पाना, रात में बिस्तर गीला कर देना, ब्लैडर की कमजोरी और पेशाब की दिक्कतों में लिया जा सकता है। यह किडनी और ब्लैडर को ताकत देने वाली, शरीर को बल देने वाली और सूजन दूर करने वाली दवा है।

यह दवा हर्बल है और वेजेटेरियन भी इसे ले सकते हैं। इस फार्मूलेशन में 300-300 mg भांग के बीज और बलूत का फल, 500 mg सलाई गुग्गुल, 100 mg रूमी मस्तगी और चीनी 3.3 ग्राम है। चीनी होने से यह शुगर के मरीजों के लिए सूटेबल नहीं है।

Loading...

दवा के बारे में इस पेज पर जो जानकारी दी गई है वह इसमें प्रयुक्त जड़ी-बूटियों के आधार पर है। हम इस प्रोडक्ट को एंडोर्स नहीं कर रहे। यह दवा का प्रचार नहीं है। हमारा यह भी दावा नहीं है कि यह आपके रोग को एकदम ठीक कर देगी। यह आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती हैं और नहीं भी। दवा के फोर्मुलेशन के आधार और यह मानते हुए की इसमें यह सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, इसके लाभ बताये गए हैं। इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। हमारा उद्देश्य दवा के लेबल के अनुसार आपको जानकारी देना है।

Hamdard Balooti is Herbal Unani medicine. It is indicated in treatment of bed wetting, loss of urinary control and frequent urination. It works by reducing swelling and gives strength to kidney and bladder. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • दवा का नाम: बलूती Hamdard Balooti
  • निर्माता: हमदर्द
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल
  • मुख्य उपयोग: पेशाब बार-बार आना, पेशाब नहीं रोक पाना
  • मुख्य गुण: सूजन कम करना, पोषण देना
  • मूल्य MRP: 1 Jar of 125 gram paste @ Rs. 153.

बलूती के घटक | Ingredients of Hamdard Balooti in Hindi

In one dose of 5 grams

Loading...
  • तुख्म ए भंग Tukhm Bhang 0.3g
  • जूफ्त बलूत Juft Baloot 0.3g
  • सलाई गुग्गुल Kundur 0.5g
  • रूमी मस्तगी Mastagi Roomi 0.1g
  • चीनी Sugar 3.3g.
  • Preservative; Sodium Benzoate 0.19% w/w.

सोडियम बेंजोएट का  रासायनिक सूत्र NaC7H5O2 है । इसे E211 से दिखाते हैं और यह एक व्यापक रूप से इस्तेमाल  खाद्य परिरक्षक है।  यह बेंज़ोइक एसिड का सोडियम नमक है। यह benzoic एसिड के साथ सोडियम हाइड्रॉक्साइड प्रतिक्रिया द्वारा उत्पादित किया जा सकता है । सोडियम बेंजोएट, भोज्य पदार्थ में कवक नही पैदा होने देता। यह कवक से आक्रमण से खाद्य पदार्थों की रक्षा करता है।  कवक या फंगस के कारण भोजन खराब हो जाता है।

सोडियम बेंजोएट के सामान्य रूप से रिपोर्ट किए गए साइड इफेक्ट्स में शामिल हैं, संक्रमण, श्वसन पथ की बीमारी, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र की बीमारी, लसीका तंत्र के विकार, हेमटोलोगिक रोग, पोषण विकार और उल्टी।

अपने चिकित्सक से सोडियम बेंजोएट के बारे में बात करें, खासकर यदि आप बहुत से खाद्य पदार्थों और पेय का उपभोग करते हैं जिसमें सोडियम बेंजोएट डाला गया है।

बलूती के फायदे | Benefits of Hamdard Balooti in Hindi

  • यह दवाई शरीर में सूजन और दर्द में राहत देती है।
  • यह ताकत देती है।
  • यह हर्बल दवा है।
  • इसके सेवन से ब्लैडर का कण्ट्रोल सही होता है।

बलूती के चिकित्सीय उपयोग | Uses of Hamdard Balooti in Hindi

  • बार बार पेशाब आना Frequent urination
  • बिस्तर गीला करना Enuresis
  • पेशाब को कण्ट्रोल नहीं कर पाना urinary incontinence
  • गुर्दा और मूत्राशय संबंधी विकारों के लिए
  • शीघ्रपतन premature ejaculation

सेवन विधि और मात्रा | Dosage of Hamdard Balooti in Hindi

  • यदि पेशाब रोकने में हमेशा दिक्कत होती है, अधिक समस्या है तो वयस्क इसकी 5 ग्राम की मात्रा, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें। पेशाब बार बार आता है, तो इसे दिन में एक बार रात को सोते समय, 5 ग्राम की मात्रा, में लें।
  • अधिक उम्र तक बच्चे बिस्तर गीला करते हैं तो इसे 2.5 ग्राम की मात्रा में रात को सोते समय दें।
  • इसे दूध अथवा पानी के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

बलूती के इस्तेमाल में सावधनियाँ | Cautions in Hindi

  • इसका इस्तेमाल चिकित्सक की सलाह के आधार पर कई महीने तक लिया जा सकता है।
  • उम्र और ताकत पर विचार करते हुए और विशेषज्ञ सलाह के साथ, इसका इस्तेमाल किया जाए तो बेहतर है।

बलूती के साइड-इफेक्ट्स | Side effects in Hindi

निर्धारित खुराक में लेने से दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं है।

बलूती को कब प्रयोग न करें Contraindications

  • इसे गर्भावस्था के दौरान न लें।
  • यदि दवा से किसी भी तरह का एलर्जिक रिएक्शन हों तो इसका इस्तेमाल नहीं करें।
  • डायबिटीज में इसका सेवन नहीं करें।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.