मुस्टकारिष्ट के फायदे, नुकसान और उपयोग विधि

मुस्तकारिष्ट एक आयुर्वेदिक दवा है। यह दवा पेट सम्बन्धी रोगों के इलाज़ में प्रयोग की जाती है। यह अपच, भूख न लगना, हैजा और सप्रू सिंड्रोम के प्रारंभिक स्तिथि में प्रभावी है।

मुस्टकारिष्ट एक आयुर्वेदिक दवा है। यह दवा पेट सम्बन्धी रोगों के इलाज़ में प्रयोग की जाती है। यह अपच, भूख न लगना, हैजा और सप्रू सिंड्रोम के प्रारंभिक स्तिथि में प्रभावी है। इस दवा के सेवन के साथ आहार में फल, दूध, हल्का, सुपाच्य और पौष्टिक भोजन लेना चाहिए तथा तला, मसालेदार भारी, बासी और गरिष्ठ खाद्य पदार्थों से परहेज़ करना चाहिए। नीचे इस दवा के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है।

Mustakarishta is a polyherbal Ayurvedic formulation. This medicine has deepana, pachana property and is indicated in digestive disorders like low appetite, diarrhoea, loose motions and digestive weakness. Mustakarishta is prepared from Musta, Guda Yavani, Maricha, Lavanga, Methi, Citraka, Jeeraka, as praksheepaka dravyas and Dhatakipushpa as sandhana dravya.

Loading...

This medicine is also known as Mustakarishta, Mustarishtam, Mustakarishtam and Mustharishtam.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

मुस्टकारिष्ट के घटक | Ingredients of Mustakarishta in Hindi

Lf. =Leaf; P. =Pericarp; Rt. =Root; Fr. =Fruit; Rz. =Rhizome; St. =Stem; Fl. Bd. =Flower Bud.

Loading...

मुस्टकारिष्ट के मुख्य गुणधर्म और उपयोग | Mustakarishta Qualities and therapeutic uses in Hindi

मुस्टकारिष्ट के फायदे | Benefits of Mustakarishta in Hindi

  • यह अजीर्ण को दूर करती है
  • अग्निमांद्य के कारण पेट दर्द और अधिक प्यास में इसका उपयोग लाभकारी है
  • जब अग्निमांद्य में मल पतला आता है और पेट में बहुत गैस बनती है तब इसका उपयोग किया जाता है

मुस्टकारिष्ट के चिकित्सीय उपयोग | Mustakarishta medicinal uses in Hindi

  • अजीर्ण (dyspepsia)
  • अग्निमांद्य (digestive impairment)
  • ग्रहणी (malabsorption syndrome)
  • आंत्रशोथ Gastro-enteritis with piercing pain
  • Excellent for malabsorption syndrome in children, poor digestion, diarrhea, low appetite

मुस्टकारिष्ट की सेवनविधि और मात्रा How to take Mustakarishta and dosage in Hindi

  • इस दवा को 12-24 ml की मात्रा में लिया जाना चाहिये।
  • इसे दिन में दो बार, सुबह और शाम पानी की बराबर मात्रा मिला कर लेना है।
  • इसे भोजन करने के बाद लिया जाना चाहिये।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

This medicine is manufactured by Dabur, Shree Baidyanath Ayurved Bhawan, Shri Bajranga Ayurved Bhawan Mustakarista, Kerala Ayurveda Mustharishtam, Pankajakasthuri Herbals India Mustharishtam, Vaidyaratnam Oushadhasala Mustharishtam, Kottakkal Mustharishtam, and some other pharmacies.

Loading...

One thought on “मुस्टकारिष्ट के फायदे, नुकसान और उपयोग विधि

  1. मुस्तकारिष्ट कितने दिनों के बाद अपना पूर्ण प्रभाव डालती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.