महारास्नादि क्वाथ Maharasnadi Kwath Detail and Uses in Hindi

महारास्नादि क्वाथ काढ़ा एक हर्बल आयुर्वेदिक औषधि है। इसे विभिन्न प्रकार के वात रोगों, सर्वांगवात, अर्धांग वात, संधिवात, साइटिका, आमवात, योनी दोष, शुक्र दोष, इनफर्टिलिटी, गठिया, पक्षाघात, फाइलेरिया, जबड़े की जकड़न, गर्दन की अकड़न, हर्निया, घुटने के दर्द, आदि में प्रयोग किया जाता है। इसे वात-व्याधि के उपचार में ली जाने वाली दवाओं के अनुपान के रूप में भी लिया जाता है।

Loading...

महारास्नादि काढ़े के सेवन के दौरान, शरीर में वात की वृद्धि करने वाले भोजन जैसे की मटर, उड़द, गोभी, मिठाई, भारी भोजन, मसालों आदि का सेवन न करें। भोजन सादा, हल्का, सुपाच्य खाएं। हींग, जीरा, का सेवन शरीर में वात को कम करता है। इसलिए इनका सेवन करें। इसी प्रकार परवल, करेला, लौकी भी वात को कम करते है।

Maharasnadi Kadha/Kwath/Quatha/decoction is a broad-spectrum anti-rheumatic and anti-Inflammatory medicine. It is indicated in treatment of Vata vyadhis. It pacifies Vata-Dosha and gives relief in pain and swelling. Maharasnadi Kwath is indicated in painful joints, pain in back, pain in muscles, gout, arthritis, rheumatism, sciatica, frozen shoulder, hemiplegia, inflammation of a nerve and many other similar ailments.

It is available in form of coarse herb mixture, ready-made preparations and tablets.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

महारास्नादि क्वाथ के घटक Ingredients of Maharasnadi Kwath

  • रसना Rasna (Rt./Lf.) 50 Parts
  • धन्वयास Dhanvayasa (Pl.) 1 Part
  • बला Bala (Pl.) 1 Part
  • एरंड मूल Eranda-mula (Rt.) 1 Part
  • देवदारु Devadaru (Ht. Wd.) 1 Part
  • शठी Shathi (Shati) (Rz.) 1 Part
  • बच Vaca (Rz.) 1 Part
  • अरुसा Vasaka (Vasa) (Rt.) 1 Part
  • सोंठ Nagara (Sunthi) (Rz.) 1 Part
  • हरीतकी Pathya (Haritaki) (P.) 1 Part
  • चव्य Chavya (St.) 1 Part
  • मोथा Musta (Rz.) 1 Part
  • पुनर्नवा Punarnava (Rakta Punarnava) (Rt.) 1 Part
  • गिलोय Guduci (St.) 1 Part
  • वृद्ध्दारू Vriddhadaru (Rt.) 1 Part
  • सौंफ Shatapushpa (Shatahva) (Fr.) 1 Part
  • गोखरू Gokshura (Fr.) 1 Part
  • अश्वगंधा Ashwagandha (Rt.) 1 Part
  • अतिविश Prativisha (Ativisha) (Rt.) 1 Part
  • अमलतास Kritamala (Aragvadha) (Fr.P.) 1 Part
  • शतावर Shatavari (Rt.Tr.) 1 Part
  • पिप्पली Krishna (Pippali) (Fr.) 1 Part
  • सहचर Sahachara (Pl.) 1 Part
  • धनिया Dhanyaka (Fr.) 1 Part
  • कंटकारी Kantakari (Pl.) 1 Part
  • बृहती Brihati (Pl.) 1 Part

प्रक्षेप द्रव्य Prkshepa dravya: सोंठ चूर्ण Shunthi Churna, पिप्पली Pippali Churna, अजमोदादी चूर्ण Ajamodadi Churna, एरंड तेल Eranda Taila

loading...

महारास्नादि क्वाथ के लाभ/फ़ायदे Benefits of Maharasnadi Kwath

  • यह नए, पुराने सभी वात विकारों में लाभप्रद है।
  • इसके सेवन से जोड़ों के दर्द, सूजन, परेशानी से आराम मिलता है।
  • यह हर्बल दवा है।
  • यह भूख को बढ़ाती है।
  • यह वाताघ्न और आमनाशक है।
  • यह वात-विकार, गठिया, पक्षाघात, शुक्र रोग, योनी रोग, श्लीपद, कंपवात की अच्छी औषधि है।

महारास्नादि क्वाथ के चिकित्सीय उपयोग Uses of Maharasnadi Kwath

  • सर्वांगकंप (Generalized tremors)
  • कुब्जावात (Kyphosis)
  • पक्षाघात (Paralysis/Hemiplegia)
  • गृध्रसी (Sciatica)
  • अमावात(Rheumatism)
  • श्लीपद (Filariasis)
  • अवबहुक (Brachialgia)
  • अपतंत्रक (Tetanic convulsions)
  • आंत्र वृद्धि (Hernia)
  • अध्मान (Flatulence with gurgling sound)
  • जंघाजानुगत वात (Pain in calf and knee)
  • अर्दित (Facial palsy)
  • शुक्ररोग (Diseases of semen)
  • मेढ्ररोग (Penile diseases)
  • वंध्यत्व (Infertility)
  • योनिरोग (Disease of female genital tract)

महारास्नादि क्वाथ चूर्ण से क्वाथ बनाना

सूखी हर्ब के मिश्रण से काढ़ा बनाने के लिए, करीब २०-२५ ग्राम मिश्रण को ४०० ml पानी में तब तक पकाएं जब तक की पानी चौथाई या १०० ml रह जाए। इसे साफ़ कपड़े से छान लें और दिन में दो बार पिए। इसे पिप्पली चूर्ण या सोंठ के चूर्ण या योगराज गुग्गुलु या अजमोदादी चूर्ण या एरंड तेल के साथ लेना चाहिए।

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Maharasnadi Kwath

  • 15-30 ml, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • इसे पानी की बराबर मात्रा मिला कर लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है।

This medicine is manufactured by Baidyanath (Maharasnadi Kadha), Dabur (Maharasnadi Kwath (Kadha)), Kerala Ayurveda (Maharasnadi Kwath; Maharasnadi Kwath Tablet), Arya Vaidya Sala (Maharasnadi Kwatham Tablets; 1 tablet=5 ml decoction), Jiva (Maharasnadi Kwath), Shri Dhootapapeshwar Limited (Maharasnadi Kadha) and many other Ayurvedic pharmacies.

loading...

2 thoughts on “महारास्नादि क्वाथ Maharasnadi Kwath Detail and Uses in Hindi

  1. Ihv purchased baidyanath mahaaranadi kadha guggle yukt for problems of burning feet n burning in palm hatheli on d advice of chemist today.will it reduce my burni g ..subside my burning ib feet n palm..pls reply on Advmjjain@gmail.com..if possible..thank u
    m j jain

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*