Khadirarishta खदिरारिष्ट Details in Hindi

खदिरारिष्ट में खैरसार और देवदारु की लकड़ी मुख्य घटक हैं। इसके अतिरिक्त इसमें त्रिफला, बावची, दारुहल्दी, लौंग, छोटी इलायची, जायफल, दालचीनी, पिप्पली, तेजपत्र और अन्य घटक हैं। यह त्वचा रोगों के इलाज के लिए एक बहुत ही जानी-मानी और अच्छी दवा है।

यह पेट में कीड़े, प्लीहा वृद्धि, खांसी, दिल की बीमारियों और गुल्म के ईलाज में भी प्रयोग की जाती है।

Loading...

नीचे इस दवा के घटक, गुण, उपयोग और इस्तेमाल की विधि के बारे में जानकारी दी गयी है।

Khadirarishta is a well-known herbal Ayurvedic medicine. This medicine effectively cures various types of skin diseases. It is also indicated in heart diseases, anemia, jaundice, intestinal parasites, blood impurities etc. Here information is given about complete list of ingredients, properties/benefits, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

खदिरारिष्ट के लाभ Benefits of Khadirarishta

  • यह एक उत्कृष्ट रक्त शोधक, विरेचक, कृमिनाशक, जीवाणुरोधी और पाचक है।
  • इसके प्रयोग से शरीर से विषाक्त पदार्थों toxins को बाहर निकालने में मदद मिलती है ।
  • खदिरारिष्ट ट्राइग्लिसराइड को कम करती है और एचडीएल में सुधार करती है।
  • यह आंतो को मजबूत करता है।

खदिरारिष्ट के उपयोग Therapeutic Uses of Khadirarishta

खदिरारिष्ट को सभी तरह के त्वचा रोग, ग्रंथियों के बढ़ जाने में, स्थानीय पेट की सूजन या ट्यूमर, आंत्र परजीवी / कीड़े, प्लीहा वृद्धि, ट्यूमर और एनीमिया में दिया जाता है। इसके सेवन से खुजली, दाद, रक्त विकार जन्य ग्रंथि, रक्त विकार, वातरक्त, घाव, सूजन, गण्डमाला, शेवत कुष्ठ, क्रीमी रोग, कास, श्वास, बदहजमी, कफ, वायु, आमवात, पांडू रोग और पेट के रोग नष्ट होते है। हृदय की अधिक धड़कन में भी यह अच्छा प्रभाव दिखाता है।

Loading...

This medicine is indicated in following disease:

  • त्वचा रोग, श्वेतदाग, कुष्ठ रोग, फोड़े Skin diseases
  • रक्त की अशुद्धियों Blood impurities
  • हृदय रोग heart diseases, कीड़ा संक्रमण parasitic infestation
  • ट्यूमर, Gulma (पेट की गांठ), ग्रंथी
  • खांसी, अस्थमा Asthma
  • तिल्ली का बढ़ना Spleen enlargement, पीलिया jaundice , और पांडु Anemia
  • मधुमेह diabetes और मोटापा obesity
  • हाइपरट्राइग्लिसरीडेमिया, hypercholesterolemia

घटक Ingredients of Khadirarishta

Sr. noCommon nameLatin namePart usedAmount
1Khadira खदिरAcacia catechuHeart wood2.4 kg
2Devadaru देवदारुCedrus deodaraHeart wood2.4 kg
3Bakuci बाकुचीPsoralea corylifoliaSeed576 g
4Darvi/Daruharidra दारू हल्दीBerberis aristataStem960 g
5Haritaki हरीतकीTerminalia chebulaPericarp960 g
6Bibhitaka बहेड़ाTerminalia belericaPericarp960 g
7Amalaki अवांलाEmblica officinalisPericarp960 g
8Jala पानीWaterfor decoction98.304 liter reduced to 12.288 liter
9Makshika (Madhu) शहदHoney9.6 kg
10Sharkara चीनीCane sugar4.8 kg
Prakshepa Dravyas:
11Dhataki धातकीWoodfordia fruticosaFlower960 g
12Kankola कंकोलPiper cubebaFruit48 g
13Nagakeshara नागकेशरMesua ferreaStamen48 g
14Jatiphala जायफलMyristica fragransSeed48 g
15LavangaलवंगSyzygium aromaticumFlower Bud48 g
16Ela इलाइचीElettaria cardamomumSeed48 g
17Tvak दालचीनीCinnamomum zeylanicumStem bark48 g
18Patra (Tejapatra) तेजपत्ताCinnamomum tamalaLeaf48 g
19Pippali पिप्पलीPiper longumFruit192 g

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage of Khadirarishta

  • इस दवा को 12-24 ml की मात्रा में लिया जाना चाहिये।
  • इसे दिन में दो बार, सुबह और शाम पानी की बराबर मात्रा मिला कर लेना है।
  • इसे भोजन करने के बाद लिया जाना चाहिये।

खदिरारिष्ट को बहुत सी आयुर्वेदिक फार्मास्यूटिकल कंपनियां बनाती है जैसे की बैद्यनाथ Baidyanath, डाबर Dabur, पतंजलि Divya Khadirarishta, आदि।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन online खरीद सकते हैं।

Loading...

5 thoughts on “Khadirarishta खदिरारिष्ट Details in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.