कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त) Kamdudha Ras (Moti Yukta) Detail and Uses in Hindi

कामदुधा रस एक आयुर्वेदिक दवा है। इसके दो प्रकार हैं, कामदुधा रस मोती युक्त, और कामदुधा रस साधारण। जैसा की नाम से ही पता चलता है, कामदुधा रस मोती युक्त, में मोती पिष्टी एक प्रमुख घटक है। मोती पिष्टी होने से यह बहुत ही सौम्य गुणों वाली है। कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त) में पित्तशामक, शीतल, और मस्तिष्क को शांत करने के गुण हैं। यह शरीर में अधिक गर्मी होने के कारण होने वाले रक्तपित्त, रक्तातिसार, रक्तप्रार, अम्लपित्त, खट्टी डकार, सिर में दर्द, भ्रम, पेशाब में जलन, रक्त की विकृति आदि को दूर करता है।

Loading...

Kamdudha Ras (Moti Yukt) is an Ayurvedic medicine used in treatment of pitta-vikar. It gives relief in diseases that are caused due to excessive heat in body like burning sensation, bleeding disorder, urinary disorders etc. In Ayurveda, pitta pertains to fire and water elements and governs metabolism. It is hot (Ushna), light (Laghu), quickly penetrating (Saram), liquid (Dravam), slightly viscid (Sneha), active (Teekshna), slightly foul smelling (Visrum). Pitta is the source of all internal heat including digestion, hunger, thirst, intelligence, imagination, understanding, memory etc. Its main function is to produce heat. The imbalance of pitta causes burning sensation in the body, hyperacidity, sleeplessness, erratic digestion, constipation or diarrhea, vomiting etc.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त) के घटक Ingredients of Kamdudha Ras (Moti Yukta)

  • कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त)
  • मोती पिष्टी १ भाग
  • प्रवाल पिष्टी १ भाग
  • मुक्ताशुक्ति पिष्टी भस्म १ भाग
  • कौड़ी भस्म १ भाग
  • शंख भस्म १ भाग
  • गेरू १ भाग
  • गिलोय का सत्त्व १ भाग

बनाने के लिए, सभी द्रव्य बराबर की मात्रा में ले कर अच्छे से घुटाई कर मिला ली जाती है और एक साफ़ शीशी में रख लिया जाता है।

कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त) के लाभ/फ़ायदे Benefits of Kamdudha Ras (Moti Yukt)

  • यह सौम्य है और सभी के द्वारा प्रयोग की जा सकती है।
  • यह दीपन और पाचक है।
  • इसके सेवन से ओज और बल की वृद्धि होती है।
  • यह हृदय के लिए हितकारी है।
  • यह पित्त का शांत करता है और एसिडिटी तथा जलन से राहत देता है।
  • यह पित्त के विकारों के कारण होने वाले विविध रोगों की दवा है।
  • यह खून में लोहे और कैल्शियम के स्तर में सुधार करती है।
  • यह पित्त बढ़ने के कारण होने वाले सिरदर्द, जलन, भ्रम, चक्कर आना, पेशाब में जलन आदि को दूर करती है।

कामदुधा रस (मौक्तिक युक्त) के चिकित्सीय उपयोग Uses of Kamdudha Ras (with pearl)

  • अम्लपित्त, एसिडिटी के साथ उल्टी
  • खट्टी डकार, अपच, अतिसार
  • आमाशय रस में अत्यधिक एसिड
  • Heartburns सीने में जलन
  • शरीर में जलन
  • सिरदर्द, माइग्रेन के साथ उल्टी
  • अधिक उल्टी आना
  • रक्त-पित्त या ब्लीडिंग डिसऑर्डर
  • रक्त प्रदर
  • नाक, गुदा, पेशाब, योनी आदि से खून गिरना
  • उन्माद, सर में दर्द
  • पित्ती निकलना
  • बुखार
  • मुख पाक
  • पित्त-विकार
  • शरीर में जलन
  • बुखार
  • मूत्रविकार

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Kamdudha Ras (Moti Yukt)

  • 1-2 गोली या 250-500 mg, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • इसे गुलकंद और च्यवनप्राश के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है।

You can buy this medicine online or from medical stores.

loading...

This medicine is manufactured by Baidyanath (Kamdudha Ras Moti Yukt), Dabur (Kamdudha Ras with Moti), Patanjali Divya Pharmacy (Kam Dudha Ras (A.F.I-II)), Shri Dhootapapeshwar Limited (Kamadugha with Mouktiky ukta Guti-Vati), and many other Ayurvedic pharmacies.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*