Jirakadyarishta जीरकाद्यारिस्ट Details and Uses in Hindi

जीरकाद्यारिस्ट आयुर्वेदिक दवा है। यह एक OTC दवा है और ये बिना दोस्तो की प्रेस्क्रिप्शन के ली जा सकती है. इस दवा का मुख्या घटक जीरा या क्यूमिन सीड्स है. जीरा एक मसाला भी और आमतौर पर लगभग हर रसोई में मिलता है. जीरा पाचन और श्वसन विकारों में आम तौर पर इस्तेमाल होता है. इसका प्रयोग महिलायों में होने वाली समस्यों में भी होता है. जीरकाद्यारिस्ट को प्रसव के बाद देने से गर्भाशय की शुद्धि होती है. यह सूतिका रोगों में भी लाभकारी है|

Loading...

Jirakadyarishta is a polyherbal Ayurvedic formulation. This medicine is useful in treatment of intestinal and gynecological disorders. All Arishtha have common property to improve digestive strength which means better digestion and assimilation of nutrients. This improves overall health of body. Also Arishtha, cures abdominal gas and removes urine blockage. Jirakadyarishtam is an Over-The-Counter OTC medicine.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

नीचे इस दवा के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है.

जीरकाद्यारिस्ट के घटक Ingredients of Jirakadyarishta

1

Jiraka (Shveta Jiraka)

सफ़ेद जीरा

Cuminum cyminum

Fruit

9.6 kg

2

Jala for decoction

पानी काढ़ा बनाने के लिए

Water

49.152 liter reduced to

12.288 liter

3

Guda

Jaggery

14.4 kg

Prakshepa Dravyas:

4

Dhataki

धातकी

Woodfordia fruticosa

Flower

768 g

5

Shunthi

सोंठ

Zingiber officinale

Rhizome

48 g

6

Jatiphala

जतिफल

Myristica fragrans

Seed

48 g

7

Mustaka (Musta)

मोथा

Cyperus rotundus

Rhizome

48 g

8

Tvak

दालचीनी

Cinnamomum zeylanicum

Stem Bark

48 g

9

Ela

छोटी इलाइची

Elettaria cardamomum

Seed

48 g

10

Patra (Tejapatra)

तेजपत्ता

Cinnamomum tamala

leaf

48 g

11

Nagakeshara

नागकेशर

Mesua ferrea

Stamen

48 g

12

Yamanika (Yavani)

यवनी

Trachyspermum ammi

Fruit

48 g

13

Kakkola

काकोल

Piper cubeba

Fruit

48 g

14

Devapushpa

देव्पुश्पा

Syzygium aromaticum

Flower Bud

48 g

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses of Jirakadyarishta

  • यह गर्भाशय को साफ़ करता है.
  • यह तासीर में थोडा गर्म है.
  • यह पाचन तंत्र पर काम करता है और भूख और पाचन को बढाता है.

जीरकाद्यारिस्ट के चिकित्सीय उपयोग

  • Puerperal Diseases सूतिका रोग, Puerperal/post-delivery Management, cleanses uterus
  • Digestive and Restorative Tonic
  • Digestive Impairment अग्निमांद्य
  • Diarrhea अतिसार पेचिश
  • Malabsorption Syndrome ग्रहणी, Sprue
  • Improves digestion and appetite

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage of Jirakadyarishta

  1. इस दवा को 12-24 ml की मात्रा में लिया जाना चाहिये।
  2. इसे दिन में दो बार, सुबह और शाम पानी की बराबर मात्रा मिला कर लेना है।
  3. इसे भोजन करने के बाद लिया जाना चाहिये।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

जीरकाद्यारिस्ट को बहुत सी आयुर्वेदिक फार्मास्यूटिकल कंपनियां बनाती है जैसे की बैद्यनाथ, डाबर, आदि।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*