चरक हायपोनिड के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि और प्राइस

हायपोनिड गोली, चरक फार्मा द्वारा निर्मित दावे है जिसे डायबिटीज और पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस) के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे इन्सुलिन रेजिस्टेंस में इस्तेमाल करने से लाभ हो सकता है।

डायबिटीज जिसे मधुमेह, शुगर की समस्या भी कहते हैं, में रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में और लिपिड को कम करने में भी लाभकारी साबित हो सकता है। विजयसार, अमलाकी, करेला, नीम और गुडमार शक्तिशाली मधुमेह विरोधी पदार्थ हैं। हायपोनिड में इंसुलिन संवेदीकरण, एंटीहाइपरग्लिसेमिक, हाइपोलिपिडिमिक, और एंटीऑक्सीडेंट है। Hyponidd मधुमेह की जटिलताओं की प्रगति को कम कर सकता है।

Loading...

हायपोनिड गोली का प्रयोग पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस) के इलाज के लिए किया जाता है। पीसीओ 6-10% महिला आबादी को प्रभावित करता है और यह अक्सर इंसुलिन प्रतिरोध से जुड़ा होता है। पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) में स्त्री हार्मोन प्रभावित होते हैं जिससे शारीरिक और भावनात्मक स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। शरीर में बढ़े हुए हार्मोन और विशेष रूप से, पुरुष प्रकार के हार्मोन एण्ड्रोजन के कारण बहुत से के प्रभाव देखने को मिलते हैं। मासिक का कई महीने न होना, चेहरे पर बाल उगना, सिर के बाल गिरना, मुहांसे होना आदि इसके प्रमुख लक्षण है। पीरियड न आने पर जब स्त्री रोग विशेषज्ञ से कंसल्ट कराकर अल्ट्रासाउंड कराते हैं तो इस स्थिति का पता चलता है।

पीसीओएस में हाइपोनिड, ओवुलेशन फंक्शन में सुधार और इंसुलिन प्रतिरोध के कारण हो रहे कई चयापचयों सम्बन्धी स्थितियों में सुधार कर सकता है। हायपोनिड इंसुलिन प्रतिरोध को कम करता है और चयापचय, प्रजनन और स्टेरॉयडोजेनिक को ठीक कर सकता है। हरिद्रा में एंटीएंड्रोजेनिक, हाइपोलिपिडिमिक, एंटीऑबिसिटी और एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं। गुडमार, अमलकी (एम्ब्लिका ऑफिफ़ाइनलिस), गुडूची (टिनेस्पोरा कॉर्डिफ़ोलिया), आदि में एंटीडायबिटिक, हाइपोलिपिडिमिक, कार्डियोप्रोटेक्टिव और एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं। इस प्रकार, पीसीओएस के प्रबंधन के लिए हायपोनिड सुरक्षित और प्रभावी हो सकती है।

दवा के बारे में इस पेज पर जो जानकारी दी गई है वह इसमें प्रयुक्त जड़ी-बूटियों के आधार पर है। हम इस प्रोडक्ट को एंडोर्स नहीं कर रहे। यह दवा का प्रचार नहीं है। हमारा यह भी दावा नहीं है कि यह आपके रोग को एकदम ठीक कर देगी। यह आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती हैं और नहीं भी। दवा के फोर्मुलेशन के आधार और यह मानते हुए की इसमें यह सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, इसके लाभ बताये गए हैं। मार्किट में इसी तरह के फोर्मुले की अन्य फार्मसियों द्वारा निर्मित दवाएं उपलब्ध हैं। इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। हमारा उद्देश्य दवा के लेबल के अनुसार आपको जानकारी देना है।

Loading...

Hyponidd from Charak Pharma is an Ayurvedic remedy to for PCOS and diabetes. It reduces insulin resistance and maintains normal blood glucose levels. It corrects acne and facial hair growth in PCOS and improves pregnancy outcome in PCOS-related female infertility. It normalizes lipid levels and protects against cardiovascular diseases. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • दवा का नाम: Hyponidd Tablet An herbal support for PCOS and diabetes
  • निर्माता: चरक फार्मा प्राइवेट लिमिटेड
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल
  • दवाई लेने का समय: भोजन से 30 मिनट पहले
  • मुख्य उपयोग: पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस), रक्त शर्करा का उच्च स्तर
  • मुख्य गुण: एंटीडायबिटिक, हाइपोलिपिडिमिक, कार्डियोप्रोटेक्टिव और एंटीऑक्सिडेंट गुण
  • साइड इफ़ेक्ट: ज्ञात नहीं
  • गर्भावस्था में प्रयोग: नहीं करें.
  • मूल्य MRP: Hyponidd Pack of 30 tablets की कीमत ₹ 103.00 है.

हायपोनिड के घटक | Ingredients of Hyponidd in Hindi

पाउडर

  • यशद भस्म Yashad Bhasma 37.5 mg
  • शिलाजीत Shilajit (Purified asphaltum) 37.5 mg
  • करेला Karela (Momordica charantia) 12 mg

एक्सट्रेक्ट Extracts derived from

  • हरिद्रा Haridra (Curcuma longa) 300 mg
  • तरवर Tarwar (Cassia auriculata) 225 mg
  • अमलकी Amalaki (Emblica officinalis) 150 mg
  • जामुन Jamun (Eugenia jambolana) 150 mg
  • ममेजवो Mamejavo (Enicostemma littorale) 112.5 mg
  • मेषश्रृंगी Meshashringi (Gymnema sylvestre) 112.5 mg
  • विजयसार Vijaysaar (Pterocarpus marsupium) 75 mg
  • गुडूची Guduchi (Tinospora cordifolia) 75 mg
  • नीम Neem (Melia azadirachta) 75 mg
  • किराततिक्त Kirat Tikta (Swertia chirata) 12 mg

हायपोनिड के लाभ / फायदे | Benefits of Hyponidd in Hindi

  • इसके सेवन से रक्त शर्करा का स्तर सामान्य करने में मदद हो सकती है।
  • Loading...
  • इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण हैं।
  • यह अग्न्याशय से इंसुलिन स्राव को उत्तेजित करती है।
  • यह इंसुलिन प्रतिरोध को कम कर सकती है।
  • यह इंसुलिन प्रतिरोध को कम करके कोशिकाओं में इंसुलिन के इस्तेमाल को बढ़ावा देती है।
  • यह एंटीहाइपरग्लाइसेमिक है।
  • यह पुरुषों में डायबिटीज के कारण न्यूरोपैथी, नसों की कमजोरी और नपुंसकता होने के खतरे को कम कर सकती है।
  • यह पॉलीसिस्टिक ओवरी के प्रबंधन में सहायक चिकित्सा के रूप में इस्तेमाल की जा सकती है।
  • यह पॉलीसिस्टिक ओवरी रोग से पीड़ित महिलाओं में माहवारी में सुधार कर सकती है जिससे प्रेगनेंसी ठहरने के चांस बढ़ते हैं।
  • यह मासिक धर्म चक्र को विनियमित करने में मदद करती है।
  • यह यकृत ग्लाइकोजन के स्तर को कम करती है।
  • यह लिपिड के स्तर को सामान्य करने में सहायक है।
  • यह हीमोग्लोबिन बढ़ा सकती है।

हायपोनिड के चिकित्सीय उपयोग | Uses of Hyponidd in Hindi

हायपोनिड को रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और इन्सुलिन के शरीर में ठीक ढंग से काम करने के लिए दिया जाता है। इसे प्री डायबिटिक, डायबिटिक ओवरी पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) में लिया जा सकता है।

  • प्री डायबिटीज के प्रबंधन के लिए
  • डायबिटीज के प्रबंधन के लिए
  • पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस)

हायपोनिड की सेवन विधि और मात्रा | Dosage of Hyponidd in Hindi

प्री डायबिटीज (रक्त शर्करा का स्तर सामान्य से अधिक है, लेकिन टाइप 2 मधुमेह के रूप में वर्गीकृत होने के लिए अभी तक उच्च पर्याप्त नहीं है, 100 से 125 मिलीग्राम / डीएल का उपवास रक्त ग्लूकोज, ओजीटीटी रक्त ग्लूकोज 140 मिलीग्राम / डीएल – 199 मिलीग्राम / डीएल), 1 गोली रोज दो बार, भोजन से आधे घंटे पहले लें या चिकित्सक द्वारा निर्देशित रूप में लें।

मधुमेह के लिए, भोजन से आधे घंटे पहले 2 गोलियाँ दो बार / तीन बार लें।

पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (पीसीओएस) में: सिफारिश की गई खुराक है, दो गोलियाँ भोजन से आधे घंटे पहले, 3-6 महीने तक या चिकित्सक द्वारा निर्देशित रूप में लें।

Hyponidd एक प्राकृतिक सामग्री युक्त हर्बल दवा है यह कई दवा महीनों तक लेने के लिए सुरक्षित है। मधुमेह के गंभीर मामलों में, इसे एलोपैथिक दवाओं के सहायक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

सावधनियाँ Cautions, साइड-इफेक्ट्स Side effects कब प्रयोग न करें Contraindications in Hindi

  • इस दवा को डॉक्टर की देख-रेख में ही लें।
  • इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  • इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  • इसे गर्भावस्था के दौरान न लें।
  • इसके सेवन से पित्त बढ़ सकता है, जिससे एसिडिटी हो सकती है। अधिक मात्रा में सेवन पेट में जलन, एसिडिटी, आदि समस्या कर सकता है।
  • इसके सेवन से शरीर में ड्राईनेस हो सकती है।
  • निर्धारित मात्रा में लेने किसी भी तरह का गंभीर साइड-इफ़ेक्ट नहीं है।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.