Balarishta बलारिष्ट Details and Uses in Hindi

बलारिष्ट एक औषधीय जड़ी-बूटियों से बनी आयुर्वेदिक दवा है जिसका उपयोग विविध बिमारियों के उपचार में बहुत पुराने समय से होता आया है। यह वात व्याधि के उपचार में मुख्यत इस्तेमाल होती है। इस दवा में बला, अश्वगंधा। शतवारी, रसना, लौंग, गोखरू, और पुराना गुड़ आदि डाले जाते है। यह दुर्बलता, आमवाती दर्द, हड्डियों के बुखार, जोड़ों के दर्द, अर्धांगघात, और सभी प्रकार के रोग जो की अधिक वात के कारण शरीर में होते है, में प्रयोग की जाती है।

Loading...

Balarishta is a polyherbal Ayurvedic formulation. This medicine is useful in treatment of rheumatism, arthritis, pain in joint, weakness etc. The chief ingredient of this medicine is Bala and hence this medicine is named Balarishta. It is Arishta. Arishtha are fermented medicines of Ayurvedic system that contains alcohol. Arishtha are prepared by allowing medicinal herbs decoction to undergo fermentation by adding jaggery/ honey/ sugar and Mahua phul, Dhai phul or babul bark in water. Arishtha can contain alcohol upto 12 % by volume.

All Arishtha have common property to improve digestive strength which means better digestion and assimilation of nutrients. This improves overall health of body. Also Arishtha, cures abdominal gas and removes urine blockage.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

नीचे इस दवा के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है।

घटक Ingredients

1 Bala

बला

Sida cordifolia

Root

4.8 kg

2 Ashvagandha

अश्वगंधा

Withania somnifera

Root

4.8 kg

3 Jala for decoction

पानी

Water

49.152 liter

reduced to 12.288 liter

4 Guda

गुड़

Jaggery

14.4 kg

 

5 Dhataki

धातकी

Woodfordia fruticosa

Flower

768 g

Prakshepa Dravyas:

प्रक्षेप द्रव्य

   

6 Payasya

क्षीरकाकोली

Ipomea digitata

Sub. Root

96 g

7 Erand

अरंड

Ricinus communis

Root

96 g

8 Rasna

रसना

Pluchea lanceolate

Leaf.*/Root

48 g

9 Ela

छोटी इलाइची

Elettaria cardamomum

Sd.

48 g

10 Prasarani

प्रसारनी

Paederia foetida

Plant

48 g

11 Lavang

लौंग

Syzgyium aromaticum

Flower Bud

48 g

12 Ushira

उशीर

Vetiveria zizanioides

Root

48 g

13 Gokhru

गोखरू

Tribulus terrestris

Fruit

48 g

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

बलारिष्ट के गुण

loading...
  • सूजन कम करने वाला और मूत्रवर्धक
  • टॉनिक और पोषक
  • वात व्याधिस में उपयोगी
  • पाचन में सुधार करने वाला
  • स्वास्थ्य और जीवन शक्ति को बढ़ावा देता है और धातु पुष्टि करता है

चिकित्सकीय प्रयोग

  • अग्निमांद्य (digestive impairment)
  • दुर्बलता (weakness)
  • वातज रोग (diseases due to Vata dosha)
  • कर्ष्य (emaciation)
  • अआर्थराइटिस, रुमेटिस्म, पक्षाघात, जोड़ों का दर्द

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage

  • इस दवा को 12-24 ml की मात्रा में लिया जाना चाहिये।
  • इसे दिन में दो बार या तीन बार पानी की बराबर मात्रा मिला कर लेना चाहिए।
  • इसे भोजन करने के बाद लिया जाना चाहिये।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

This medicine is manufactured by Dabur, Shree Baidyanath Ayurved Bhawan, Zandu, Vaidyaratnam Oushadhasala (Balarishtam), Kairali Herbal Balarishtam, Pankajakasthuri Herbals India (Balarishtam), Arya Vaidya Sala Kottakal (Balarishtam), Nagarjuna (Balarishtam), Vaidyaratnam (Balarishtam) and some other pharmacies.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*