बैद्यनाथ दिमाग दोषहारी टेबलेट्स के फायदे, नुकसान, उपयोग विधि और प्राइस

दिमाग दोषहारी टेबलेट्स, श्री बैद्यनाथ आयुर्वेद भवन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा निर्मित एक दवाई है जिसके प्रमुख घटक ब्राह्मी काढ़ा, जटामांसी काढ़ा, सर्पगंधा, मकरध्वज, आदि जैसे द्रव्य हैं। जैसा की नाम से ही पता चलता है, यह दवा दिमाग के दोषों के इलाज के लिए है। यह उच्च रक्तचाप, नींद न आना, स्मृति ह्रास आदि में लाभप्रद है।

इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। याद रखे, दवा का यदि शरीर पर प्रभाव हो रहा है तो इसके कुछ दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। यह दवा हृदय और दिमाग के लिए है, इसलिए इसे लेते समय और भी सावधानी की आवश्यकता है।

Loading...

Baidyanath Dimag Doshahari is a herbomineral Ayurvedic formulation from Shree Ayurved Bhawan and indicated in mental disorders.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • निर्माता: श्री बैद्यनाथ आयुर्वेद भवन प्राइवेट लिमिटेड
  • दवाई का प्रकार: जड़ी बूटी खनिज युक्त आयुर्वेदिक दवाई
  • मुख्य उपयोग: नींद न आना, उच्च रक्तचाप
  • मुख्य गुण: एंग्जायटी और रक्तचाप कम करना, शरीर को बल देना
  • मूल्य MRP Baidyanath Dimag Doshahari Tablets: Rs. 148.00

बैद्यनाथ दिमाग दोषहारी टेबलेट्स के घटक | Ingredients of Baidyanath Dimag Doshahari in Hindi

  1. ब्राह्मी काढ़ा
  2. जटामांसी काढ़ा
  3. प्रवाल भस्म
  4. सर्पगंधा
  5. स्वर्ण माक्षिक भस्म
  6. मकरध्वज

बैद्यनाथ दिमाग दोषहारी टेबलेट्स के फायदे | Benefits of Baidyanath Dimag Doshahari in Hindi

  1. यह मस्तिष्क रोगों में लाभ करती है।
  2. यह दिमाग को शांत करने में सहायक है।
  3. इसके सेवन से नींद न आने की समस्या में लाभ होता है।
  4. यह रक्तचाप को कम करती है।
  5. यह दिमाग और शरीर को बल देती है।
  6. यह एक टॉनिक है।
  7. यह शरीर में वात और पित्त का संतुलन करती है।

बैद्यनाथ दिमाग दोषहारी टेबलेट्स के चिकित्सीय उपयोग | Uses of Baidyanath Dimag  Doshahari in Hindi

  1. नींद न आना
  2. उच्च रक्तचाप
  3. याददाश्त की कमी

बैद्यनाथ दिमाग दोषहारी टेबलेट्स की सेवन विधि और मात्रा | Dosage of Baidyanath Dimag Doshahari in Hindi

  • 1-2 गोली, दिन में दो बार, सुबह और शाम लें।
  • इसे दूध, पानी के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

सावधनियाँ/ साइड-इफेक्ट्स/ कब प्रयोग न करें Cautions/Side effects/Contraindications in Hindi

  1. यह दवा बच्चों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए उचित नहीं है।
  2. इसमें सर्पगंधा है जो की अवसादक है और रक्तचाप को कम करता है। जिन्हें डिप्रेशन की समस्या हो उन्हें सर्पगंधा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  3. जिन्हें पहले ही कम रक्तचाप हो उन्हें यह दवा लेते समय सावधानी की आवश्यकता है।
  4. इसमें मकरध्वज है जो की पारद और गंधक के कंपाउंड से बनता है और जिसे लम्बे समय तक नहीं लिया जाना चाहिए।
  5. इस दवा को डॉक्टर की देख-रेख में ही लें।
  6. इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  7. इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  8. यह हमेशा ध्यान रखें की जिन दवाओं में पारद, खनिज आदि होते हैं, उन दवाओं का सेवन लम्बे समय तक नहीं किया जाता। इसके अतिरिक्त इन्हें डॉक्टर के देख-रेख में बताई गई मात्रा और उपचार की अवधि तक ही लेना चाहिए।

उपलब्धता

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.