पतंजलि गिलोय आंवला रस Giloy Amla Juice Uses, Benefits, Side Effects, Dosage, Warnings in Hindi

Loading...

गिलोय आंवला रस Giloy Amla Juice in Hindi पतंजलि आयुर्वेद द्वारा निर्मित है। इसे आंवले के रस और गिलोय के तने के रस से बनाया गया है।

यह एक हेल्थ सप्लीमेंट की तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे किसी रोग में स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए, बुखार, क्रोनिक बीमारियों आदि में ले सकते हैं। इसे ऐसे भी स्वास्थ्य को ठीक रखने और रोगों को नहीं होने देने के लिए दैनिक पी सकते हैं।

इसमें गिलोय और आंवले का रस है और दोनों ही आयुर्वेद की रसायन औषधियां है। रसायन औषधियों को लेने का शरीर पर आमतौर पर कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं देखा जाता।

गिलोय (टिनोस्पोरा कोर्डिफोलिया) आयुर्वेद की बहुत ही मानी हुई औषध है। इसे गुडूची, गुर्च, मधु]पर्णी, टिनोस्पोरा, तंत्रिका, गुडिच आदि नामों से जाना जाता है। यह एक बेल है जो सहारे पर कुंडली मार कर आगे बढती जाती है। इसे इसके गुणों के कारण ही अमृता कहा गया है। यह जीवनीय है और शक्ति की वृद्धि करती है। इसे जीवन्तिका भी कहा जाता है।

दवा के रूप में गिलोय के अंगुली भर की मोटाई के तने का प्रयोग किया जाता है। जो गिलोय नीम के पेड़ पर चढ़ कर बढती है उसे और भी अधिक उत्तम माना जाता है। इसे सुखा कर या ताज़ा ही प्रयोग किया जा सकता है। ताज़ा गिलोय को चबा कर लिया जा सकता है, कूंच कर रात भर पानी में भिगो कर सुबह लिया जा सकता है अथवा इसका काढ़ा बना कर ले सकते है। गिलोय वात-पित्त और कफ का संतुलन करने वाली दवाई है। यह रक्त से दूषित पदार्थो को नष्ट करती है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। यह एक बहुत ही अच्छी ज्वरघ्न है और वायरस-बैक्टीरिया जनित बुखारों में अत्यंत लाभप्रद है। गिलोय के तने का काढ़ा दिन में तीन बार नियमित रूप से तीन से पांच दिन या आवश्कता हो तो उससे अधिक दिन पर लेने से ज्वर नष्ट होता है। किसी भी प्रकार के बुखार में लीवर पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। ऐसे में गिलोय का सवेन लीवर की रक्षा करता है। यदि रक्त विकार हो, पुराना बुखार हो, यकृत की कमजोरी हो, प्रमेह हो, तो इसका प्रयोग अवश्य करना चाहिए

आयुर्वेद के अनुसार आंवला का सेवन करने से शरीर का कायाकल्प हो जाता है और शरीर की धातुएं पुष्ट हो जाती हैं। यह रसायन कहा जाता है और विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है। इसके साथ ही, इसमें खनिज, पॉलीफेनोल, लोहा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फाइबर भी शामिल हैं। यह शरीर में जलन, सनसनी, और पित्त संबंधी पाचन संबंधी समस्याएं में फायदेमंद है। यह शरीर में गर्मी को कम करता है और नकसीर फूटना, ब्लीडिंग डिसऑर्डर और पेट के अल्सर में फायदा करता है।

loading...

दवा के बारे में इस पेज पर जो जानकारी दी गई है वह इसमें प्रयुक्त जड़ी-बूटियों के आधार पर है। हम इस प्रोडक्ट को एंडोर्स नहीं कर रहे। यह दवा का प्रचार नहीं है। हमारा यह भी दावा नहीं है कि यह आपके रोग को एकदम ठीक कर देगी। यह आपके लिए फायदेमंद हो भी सकती हैं और नहीं भी। दवा के फोर्मुलेशन के आधार और यह मानते हुए की इसमें यह सभी द्रव्य उत्तम क्वालिटी के हैं, इसके लाभ बताये गए हैं। मार्किट में इसी तरह के फोर्मुले की अन्य फार्मसियों द्वारा निर्मित दवाएं उपलब्ध हैं। इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें। हमारा उद्देश्य दवा के लेबल के अनुसार आपको जानकारी देना है।

Giloy Amla Juice (Patanjali) is Herbal Ayurvedic medicine containing Amla Juice and Giloy stem extract as active ingredients. It is indicated in treatment of chronic fever, viral infections, cancer, diabetes, inflammation, immunomodulatory and psychiatric conditions, osteoporosis, arthritis, blood disorders, jaundice, anxiety, respiratory problems, musculo-skeletal disorders etc. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • दवा का नाम: दिव्य पतंजलि गिलोय आंवला रस Giloy Amla Juice
  • निर्माता: Patanjali Divya Pharmacy
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्बल हेल्थ सप्लीमेंट
  • मुख्य उपयोग: बुखार, इम्युनिटी बढ़ाना, लीवर फंक्शन ठीक करना, रोगों से बचाव
  • मुख्य गुण: एंटीऑक्सीडेंट, सूजन दूर करना, एंटीबैक्टीरियल
  • दोष इफ़ेक्ट: वात-पित्त-कफ का संतुलन करना
  • मूल्य MRP: 1 Bottle of 500 ml @ Rs. 90.00

गिलोय आंवला रस के घटक Ingredients of Giloy Amla Juice

प्रत्येक 10 मिलीलीटर में Each 10 ml contains

  • गिलोय के तने का जूस Giloy stem juice (Tinospora cordifolia) 5.9 ml
  • आंवला के फल का जूस Amla Fruit juice (Emblicao fficinalis) 4.0 ml
  • पोटैशियम सोर्बेट Potassium Sorbate (Food Grade)
  • सोडियम बेन्जोएट Sodium Benzoate (Food Grade)

सोडियम बेंजोएट क्या है?

सोडियम बेंजोएट का रासायनिक सूत्र NaC7H5O2 है । इसे E211 से दिखाते हैं और यह एक व्यापक रूप से इस्तेमाल खाद्य परिरक्षक है। यह बेंज़ोइक एसिड का सोडियम नमक है। यह benzoic एसिड के साथ सोडियम हाइड्रॉक्साइड प्रतिक्रिया द्वारा उत्पादित किया जा सकता है । सोडियम बेंजोएट, भोज्य पदार्थ में कवक नही पैदा होने देता। यह कवक से आक्रमण से खाद्य पदार्थों की रक्षा करता है। कवक या फंगस के कारण भोजन खराब हो जाता है।

सोडियम बेंजोएट के सामान्य रूप से रिपोर्ट किए गए साइड इफेक्ट्स में शामिल हैं, संक्रमण, श्वसन पथ की बीमारी, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र की बीमारी, लसीका तंत्र के विकार, हेमटोलोगिक रोग, पोषण विकार और उल्टी।

अपने चिकित्सक से सोडियम बेंजोएट के बारे में बात करें, खासकर यदि आप बहुत से खाद्य पदार्थों और पेय का उपभोग करते हैं जिसमें सोडियम बेंजोएट डाला गया है।

गिलोय आंवला रस के लाभ/फ़ायदे Benefits of Giloy Amla Juice

गिलोय-आंवला जूस, में गिलोय के तने का जूस और आंवले का रस है. इसे दैनिक पीने से दोनों के हो लाभ शरीर क मिलते हैं. नीचे गिलोय और आंवले के रस के लाभ दिए गए है:

गिलोय रस के फायदे Health Benefits of Giloy/Tinospora Juice in Hindi

  • इसमें एंटी-एजिंग गुण होते हैं जो कि डार्क स्पॉट, लाइनों और झुर्रियों को कम करने में मदद करते हैं ।
  • गिलोय किसी भी कारण से होने वाले बुखार में लाभप्रद है। यह पुराने बुखार में विशेष रूप से फायदा करती है।
  • यह बार आने वाले आवर्तक बुखार में बहुत लाभप्रद है। यह डेंगू, स्वाइन फ्लू और मलेरिया जैसी कई खतरनाक स्थितियों के लक्षणों को कम करने में मददगार है।
  • गिलोय में खून को साफ़ करने के गुण है। साथ ही यह लीवर के सही से काम करने में सहयोगी है। इसलिए यह हर प्रकार की त्वचा रोगों में लाभप्रद है। यह एक्ने, पिम्पल, एक्जिमा आदि में फायदा करती है।
  • यह इंसुलिन के उत्पादन में मदद करती है और ग्लूकोज को जलाने की क्षमता बढ़ाती है। यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है।
  • यह गाउट, गठिया, संधिशोथ के प्रबंधन में सहायक है।
  • यह गैस्ट्रो-आंत्र विकार जैसे अपच, एसिड अपच, गैस्ट्रिटिस आदि के लिए काफी प्रभावी है।
  • यह छाती की जकड़न, सांस की कमी, खाँसी, घरघराहट, आदि में लाभप्रद है।
  • यह पाचन में सुधार लाने और आंत्र संबंधी रोगों का इलाज करने में बहुत फायदेमंद है । आंवले के साथ इसका सेवन कब्ज से राहत देता है।
  • यह मानसिक तनाव को कम करने और चिंता को कम करने में मदद करती है।
  • यह मूत्र रोगों में लाभप्रद है। इसे सभी प्रकार के मूत्र संक्रमणों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  • यह यकृत, गुर्दा और हृदय की रक्षा करने वाली लता है।
  • यह लीवर की रक्षा करने वाली और लीवर रोगों में लाभप्रद औषध है। यह इनफ़ेक्टिव हेपेटाइटिस, स्पलेनोमेगाली में और सिफलिस आदि में लाभप्रद है ।
  • यह विषाक्त पदार्थों से छुटकारा पाने में मदद करती है।
  • यह शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाती है। यह शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने में सहायता करती है । यह एक शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट है और और शरीर को फ्री रेडिकल डैमेज से बचाती है।
  • यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को हटाने, रक्त को शुद्ध करने, बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करती है।
  • यह स्मृति को बढ़ाती है।
  • यह हड्डियों, फेफड़े, आंतों, रक्त विकारों, आंतरायिक बुखार और यकृत के रोगों के संक्रामक रोगों को ठीक करने में मदद करती है।
  • यह हाइपोग्लाइकेमिक है और मधुमेह (विशेषकर टाइप 2 डायबिटीज़) का इलाज करने में मदद करती है। गिलोय का रस ब्लड शुगर के उच्च स्तर को कम करने में मदद करती है।
  • सूजन को कम करने के गुण के कारण इसे श्वसन समस्याओं जैसे कफ, सर्दी, टॉन्सिल, रुमेटी गठिया, गठिया आदि में इस्तेमाल करते हैं।

आंवला रस के फायदे Health Benefits of Amla/ Indian Gooseberry Juice in Hindi

  • इसमें नमकीन के अलावा सभी स्वाद है। यह मुख्य रूप से खट्टा, कड़वा, कसैला है। यह सभी दोष को शांत करता है, लेकिन मुख्यतः पित्त और वात कम करता है।
  • इसमें रेचक गुण हैं और कब्ज में राहत देता है।
  • इसमें विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट की उच्च मात्रा होती है।
  • इसके एंटीऑक्सीडेंट का उच्च स्तर कैंसरजन्य कोशिकाओं के विकास को रोकता है।
  • इसमें आवश्यक पोषक तत्व और विटामिन सी हैं जो पूरे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में सहयोगी है।
  • इसमें विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट्स हैं, जिससे यह त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। यह कोलेजन उत्पादन उत्तेजक द्वारा त्वचा दृढ़ता पुनर्स्थापित करता है।
  • इससे पीने से शरीर में ठंडक आती है।
  • पित्त को शांत करने और ठंडा करने के गुणों कारण अम्लता में राहत देता है।
  • यह एंटीऑक्सिडेंट है।
  • यह ओज बढ़ा देता है।
  • यह गैस्ट्रिटिस, अपच, अम्लता, पेप्टिक अल्सर, सामान्य दुर्बलता, कब्ज, हाइपरकोलेस्ट्रोलाइमिया, बुखार, हेपेटाइटिस, रक्तस्राव, त्वचा की समस्याएं, मूत्र संबंधी समस्याओं, सिरदर्द, आंत्र समस्याओं, छाती में संक्रमण और अस्थमा में लाभप्रद है।
  • यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट को साफ रखने के द्वारा स्वस्थ आंत्र आंदोलन को सहायता करता है।
  • यह चयापचय को बढ़ाता है, और मोटापे में लाभप्रद है।
  • यह तंत्रिका स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है और संज्ञानात्मक कार्य में सुधार, एकाग्रता और स्मृति में वृद्धि करता है। यह डिमेंशिया और अल्जाइमर जैसी बीमारियों को रोकने में मदद करता है।
  • यह नेत्र स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। यह आंख की दृष्टि में सुधार करता है। आंवला में मौजूद एंटीऑक्सिडेंट आंखों के रेटिना को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाते हैं, मोतियाबिंद के जोखिम को कम करते हैं।
  • यह पाचन तंत्र में सुधार लाने में मदद करता है और संपूर्ण अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है।
  • यह प्रतिरक्षा प्रणाली को बेहतर बनाता है।
  • यह बालों और चमड़ी के स्वास्थ्य को बेहतर कर सकत है।
  • यह यूरिक एसिड को कम करने में मदद करता है।
  • यह रक्त में सीरम कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। यह शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में भी मदद करता है।
  • यह लोहे के अवशोषण में माद करता है।
  • यह शरीर की सप्तधातु में वृद्धि करता है।
  • यह शरीर में गर्मी को कम करता है।
  • यह शरीर से विषाक्त पदार्थों और हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।
  • यह श्वसन संबंधी विकारों, सर्दी, खाँसी, फ्लू और गले के संक्रमण को कम करने में लाभप्रद है।
  • यह सिर के दर्द, नींद नहीं आना, स्ट्रेस, और अन्य मानसिक समस्याओं में लाभप्रद है।
  • यह स्ट्रेस को कम करता है।
  • यह हड्डियों के दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है।
  • यह हृदय के लिए अच्छा है। यह हृदय को रक्त प्रवाह की रुकावट को रोकता है, खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, हृदय की मांसपेशियों को मजबूत करता है, कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करता है।
  • loading...

गिलोय आंवला रस के चिकित्सीय उपयोग Uses of Giloy Amla Juice

  • आर्थराइटिस arthritis
  • इम्युनिटी की कमी Lack of immunity
  • इम्युनोमोडायलेटरी और मनश्चिकित्सीय स्थितियों Immunomodilatory and psychiatric conditions
  • एनीमिया खून की कमी Anemia loss of blood
  • एसिडिटी acidity
  • ऑस्टियोपोरोसिस Osteoporosis
  • कंडू, खुजली, त्वचा समस्याएं Kundu, Itching, Skin Problems
  • कम भूख लगना Less hungry
  • कामला, लीवर के रोग, लीवर फंक्शन ठीक नहीं होना Kamala, liver disease, liver function is not cured
  • कैंसर Cancer
  • खालित्य (गंजापन) Alopecia (baldness)
  • गठिया Arthritis
  • गाउट Gout
  • चिंता anxiety
  • डायबिटीज Diabetes
  • तिमिर Timir
  • त्वचा रोग skin disease
  • नेत्र सम्बंधित सभी रोग Eye related diseases
  • पलित (असमय सफ़ेद होना) Wretched (uneven white)
  • पीलिया jaundice
  • पुराना बुखार Old fever
  • बालों का गिरना Hair fall
  • बुखार fever
  • यौन दुर्बलता Sexual debilitation
  • रक्त विकार blood disorder
  • रक्तस्राव Bleeding
  • लीवर के रोग Lever disease
  • वायरल संक्रमण Viral infection
  • विटामिन सी की कमी Vitamin C deficiency
  • विषमज्वर dengue, chikungunya, viral fever
  • श्वसन समस्या Respiratory problem
  • सूजन वाले रोग inflammatory diseases
  • स्वास्थ्य को सही बनाए रखना Maintaining health right

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Giloy Amla Juice

  • इसे खाली पेट लें।
  • इसे लेने की मात्रा 15-30 ml है।
  • इसे पानी के साथ मिलाकर दिन में २-३ बार ले सकते हैं।
  • स्वादिष्टता बढ़ाने के लिए थोड़ा नींबू का रस और शहद मिला सकते हैं।

गिलोय आंवला रस के इस्तेमाल में सावधनियाँ Cautions

  • गिलोय लेने का कोई गंभीर दुष्प्रभाव नहीं हैं क्योंकि यह एक प्राकृतिक और सुरक्षित हर्बल है।
  • कुछ मामलों में – गिलोय और आंवले का उपयोग निम्न रक्त शर्करा के स्तर का कारण हो सकता है। इसलिए यदि आप मधुमेह और दीर्घकालिक आधार पर गिलोय और आंवले का उपभोग कर रहे हैं, तो नियमित रूप से आपके रक्त शर्करा के स्तर की निगरानी करें।

गिलोय आंवला रस के साइड-इफेक्ट्स Side effects

निर्धारित खुराक में लेने से दवा का कोई दुष्प्रभाव नहीं है।

गिलोय आंवला रस को कब प्रयोग न करें Contraindications

  • इसे गर्भावस्था के दौरान बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं लें।
  • यदि दवा से किसी भी तरह का एलर्जिक रिएक्शन हों तो इसका इस्तेमाल नहीं करें।

भंडारण निर्देश

  • सूखी जगह में स्टोर करें।
  • इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*