सुपर सॉनिक कैप्सूल Super Sonic Capsules Detail and Uses in Hindi

सुपर सॉनिक कैप्सूल, रेनोविज़न एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड REPL (Renovision Exports Pvt. Ltd. द्वारा निर्मित दवाई है। यह दवा एक सेक्स टॉनिक है और केवल पुरुषों के लिए है। इस दवा के पैक के अनुसार इसमें कई वाजीकारक जड़ी-बूटियाँ जैसे की केवांच, अश्वगंधा, विधारा, समेत स्वर्ण भस्म, रौप्य भस्म, लौह भस्म, वंग भस्म आदि है। इसलिए दवा का मूल्य भी अधिक है। चार गोली के पैक की कीमत 325. 00 रुपये है। इसकी एक गोली वियाग्रा की तरह सेक्स करने से 1-2 घंटे पहले लेनी है।

Loading...

इस पेज पर जो जानकारी दी गई है उसका उद्देश्य केवल और केवल इस दवा के बारे में बताना है। कृपया इसका प्रयोग स्वयं उपचार करने के लिए न करें।

Super Sonic Capsules is an herbal Viagra type medicine from REPL. It contains herbs, metals and minerals formulations. It taken 1-2 hours before sexual intercourse for better performance. This medicine is only for men.

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: हर्ब्स और धातु-खनिजों युक्त आयुर्वेदिक दवा
  • मुख्य उपयोग: सेक्स टॉनिक
  • मुख्य गुण: ताकत देना, वाजीकारक
  • यह दवा केवल पुरुषों के लिए है।

सुपर सॉनिक कैप्सूल के घटक Ingredients of Super Sonic Capsules

प्रत्येक कैप्सूल में:

  1. अश्वगंधा Aswagandha 60 mg
  2. सफ़ेद मुस्ली Safed Musli 60 mg
  3. केवांच Kaunch Beej 60 mg
  4. शतावर Shatawari 60 mg
  5. विधारा Suddha Vidhra 25 mg
  6. कुचला Suddha Kuchala 25 mg
  7. लौह भस्म Lauh Bhasam 34।49 mg
  8. बंग भस्म Bang Vasam 25 mg
  9. अभ्रक भस्म Abharak Bhasam 15 mg
  10. रजत भस्म Rajat Bhasam 10 mg
  11. स्वर्ण भस्म Swarna Bhasam 0।01 mg
  12. शिलाजीत Suddha Shilajit 75 mg
  13. प्रवाल भस्म Parwal Bhasam 7 mg
  14. Sura Sar Dust 0|5 mg

अश्वगंधा आयुर्वेद की जानी मानी टॉनिक औषधि है। यह नसों को ताकत दने वाली और सूजन को दूर करने वाली दवा है।

loading...

कौंच / केवांच में वीर्यवर्धन, स्तम्भन, कामोद्दीपन आदि गुण हैं। यह धातुवर्धक और शक्तिवर्धक है। इसका पुरुषों के रोगों में प्रमुखता से प्रयोग किया जाता है। यह नामर्दी, नपुंसकता, नसों की कमजोरी, क्लैव्य, कमजोरी आदि में विशेषतः लाभप्रद है। इसके सेवन से कामेच्छा बढ़ती है। यह उत्तम वाजीकारक है।

विधारा को आयुर्वेद में नसों के लिए टॉनिक, वाजीकारक, कफ-वातहर, टॉनिक, बल्य, माना गया है।

सफ़ेद मुस्ली शक्तिवर्धक, वीर्यवर्धक, कामोद्दीपक और नपुंसकता को दूर करने वाली दवा है। यह पुरुषों में होने वाली यौन समस्याओं में प्रभावशाली है। यह वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या की कमी, नपुंसकता की शिकायत, स्वप्नदोष, ताकत-जोश की कमी सभी में दी जाती है।

शतावरी में अल्सर ठीक करने के, इम्युनिटी बढ़ाने के और टॉनिक गुण हैं। यह आँतों को साफ़ करती है और पेचिश को अपने संकोचक गुण से रोकती है। शतावर के सेवन से शरीर में अम्लपित्त की शिकायत दूर होती है।

शिलाजीत, हिमालय की चट्टानों से निकलने वाला पदार्थ है। आयुर्वेद में औषधीय प्रयोजन के लिए शिलाजीत को शुद्ध करके प्रयोग किया जाता है। यह एक adaptogen है और एक प्रमुख आयुर्वेदिक कायाकल्प टॉनिक है। यह पाचन और आत्मसात में सुधार करता है। आयुर्वेद में, इसे हर रोग के इलाज में सक्षम माना जाता है। इसमें अत्यधिक सघन खनिज और अमीनो एसिड है।

शिलाजीत प्रजनन अंगों पर काम करता है। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है और प्रतिरक्षा में सुधार करता है। यह पुरानी बीमारियों, शरीर में दर्द और मधुमेह में राहत देता है। इसके सेवन शारीरिक, मानसिक और यौन शक्ति देता है।

वंग या बंग भस्म, स्टेनम या टिन की भस्म है। इसे आयुर्वेद में हल्का, दस्तावर, रूखा, गर्म, पित्तकारक माना गया है। इसे मुख्य रूप से प्रमेह, कफ, कृमि, पांडू, श्वास रोगों में प्रयोग कियाजाता है। शुद्ध वांग को सम्पूर्ण प्राकर के प्रमेहों को नष्ट करने वाला कहा गया है। बंग भस्म का सेवन शरीर को बल देता है, इन्द्रियों को शक्ति देता है और पुरुषों के सभी अंगों को ताकत से भरता है तथा पुरुष होर्मोन का भी अधिक स्राव कराता है। यह मुख्य रूप से प्रजनन अंगों के लिए ही उपयोगी है। बंग भस्म वाजीकारक भी है।

लौह भस्म आयरन का ऑक्साइड है और आयुर्वेद बहुत अधिक प्रयोग होता है। इसे क्रोनिक बिमारियों के इलाज़ के लिए प्रयोग किया जाता है। यह पांडू रोग या अनीमिया को नष्ट करता है।

कुचला को विषतुंडीका Nux-vornica, Poison nut कहा जाता है। इसे यह नाम इसके जहरीले गुणों के कारण दिया गया है। यह एक शक्तिशाली जहर है। आयुर्वेद में कुचला को उपविष वर्ग में रखा गया है। इसके बीज को आयुर्वेद में उचित शोधन के बाद ही इस्तेमाल किया जाता है। शुद्ध बीजों का उपयोग बहुत ही कम मात्रा में गठिया, स्नायु दर्द, तंत्रिका दर्द आदि के उपचार में होता है।

सुपर सॉनिक कैप्सूल के लाभ/फ़ायदे Benefits of Super Sonic Capsules

  1. यह दवा शक्तिवर्धक और वाजीकारक है।
  2. यह पुरुषों के लिए सेक्सुअल टॉनिक है।
  3. केवांच, अश्वगंधा, बंग भस्म, विधारा आदि के होने से इसमें हर्बल वियाग्रा जैसे गुण हैं।
  4. यह शीघ्रपतन, स्तंभन दोष, अनैच्छिक शुक्रपात, स्वप्नदोष में लाभप्रद है।
  5. सुपर सॉनिक कैप्सूल के चिकित्सीय उपयोग Uses of Super Sonic Capsules
  6. शीघ्रपतन Premature ejaculation
  7. स्वप्नदोष Nocturnal emission
  8. इंद्री की शिथिलता Indriya Shaithilya (erectile dysfunction)
  9. दुर्बलता Dourbalya (Weakness) Manodourbalya / Dhatudourbalya
  10. नामर्दी Purusha Vandhyatva

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Super Sonic Capsules

  • 1 गोली, सेक्स करने से 1-2 घंटे पहले लें।
  • इसे दूध, पानी के साथ लें।
  • इसे भोजन करने के बाद लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।
  1. सावधनियाँ/ साइड-इफेक्ट्स/ कब प्रयोग न करें Cautions/Side effects/Contraindications

  2. यदि इस दवा के सेवन के बाद किसी भी प्रकार के साइड-इफेक्ट्स हो तो इसे आगे से न लें। याद रखें यदि इसका शरीर पर कुछ प्रभाव हो रहा है तो कई दुष्प्रभाव भी हो सकते है जो व्यक्ति के स्वास्थ्य समेत बहुत से कारकों पर निर्भर करते है।
  3. शरीर में किसी भी प्रकार की व्याधि हो, कोई दवा ले रहे हों, तो डॉक्टर का परामर्श अवश्य लें।
  4. उच्च रक्तचाप में इसे न लें।
  5. एक दिन में एक कैप्सूल से ज्यादा न लें।
  6. इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  7. इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  8. यह हमेशा ध्यान रखें की जिन दवाओं में खनिज, विष वाली जड़ी-बूटियाँ, जैसे इसमें कपिलू / कुचला Strychnos nuxvomica आदि होते हैं, उन दवाओं का सेवन लम्बे समय तक नहीं किया जाता। इसके अतिरिक्त इन्हें डॉक्टर के देख-रेख में बताई गई मात्रा और उपचार की अवधि तक ही लेना चाहिए।
  9. क्योंकि इस दवा में कुचला है इसलिए, इसे केवल प्रत्यक्ष चिकित्सक के पर्यवेक्षण में ही लें।
loading...

2 thoughts on “सुपर सॉनिक कैप्सूल Super Sonic Capsules Detail and Uses in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*