सिपला इरेक्टेलिस 20 mg  Cipla Erectalis Detail and Uses in Hindi

सिपला इरेक्टेलिस 20mg एक ऐलोपथिक दवाई जो केवल पुरुषों के लिए है और बेटर इरेक्शन पाने में मदद करती है।

सिपला इरेक्टेलिस 20mg को इरेक्टाइल डिसफंक्शन / स्तम्भन दोष या नपुंसकता में लिया जाता है। इरेक्टाइल डिसफंक्शन वो स्थति है जिसमें पुरुष का लिंग ठीक से तनाव नहीं आता  जिस कारण पुरुष चाह कर भी सेक्स का आनंद नहीं ले सकता। इसमें लिंग में कडापन और सख्ती नहीं होती और इस वज़ह से सेक्स करना संभव नहीं हो पाता। टडालाफिल को इरेक्टाइल डिसफंक्शन जिसे स्तम्भन दोष या नपुंसकता Erectile dysfunction ED भी कहते हैं, में लेने से सेक्सुअल अरोउसल / उत्तेजना होने के बाद, इन्द्रिय में तनाव सही से आता है। यह दवाई, रोग का इलाज treats करती है उसे ठीक but not cures नहीं करती।

यह बाद ध्यान रखने योग्य है, की किसी भी अन्य दवा की तरह इसको लेने से भी शरीर पर कई तरह के दुष्प्रभाव / नुकसान हैं। इसलिए यदि आवश्यक हो तो ही इसका प्रयोग करें तथा यदि किसी अन्य स्वास्थ्य समस्या के लिए कोई दवा लेते हैं, तो उस दवा का इसके साथ इंटरेक्शन क्या होता है यह भलिभांति समझ लें।

हमारा उद्देश्य केवल आपको इस दवा के बारे में जितनी संभव हो सके, जानकारी हो देना है। इस जानकारी को आप स्वयं इलाज़ के लिए प्रयोग न करें। याद रखें, हर दवा, सभी को सूट नहीं करती है और सभी का शरीर दवा के प्रति अलग-अलग ढंग से रिअक्ट कर सकता है। किसी में लाभ ज्यादा होता और किसी में दुष्प्रभाव।

Cipla Erectalis is available in strength of 20 mg. This Allopathic medicine is for achieving erection and used in treatment of erectile dysfunction or ED, condition in which man cannot get, or keep, a hard erect penis suitable for sexual activity. It works by increasing blood flow to the penis and relaxing the muscles. It should be taken an hour before the sexual intercourse. There are few conditions in which it should not be taken and like any other medicine it produces certain side-effect including headache, nausea, lowering of blood pressure etc.

While taking this medicine the blood pressure should be monitored carefully. In case of serious side-effects, intake of medicine should be stopped and doctor should be consulted.

loading...

Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

  • रोग: इरेक्टाइल डिसफंक्शन
  • ब्रांड का नाम: Cipla
  • जेनरिक: टडालाफिल

सिपला इरेक्टेलिस 20mg के घटक Ingredients of Cipla Erectalis

टडालाफिल Tadalafill 20mg

टडालाफिल फोस्फोडाईएस्टरेज़ टाइप 5 इनहीबिटर phosphodiesterase type-5 inhibitor है। फास्फोडिस्ट्रस 5 (PDE 5) एंजाइम के प्रवाह को रोककर टिश्यू को रिलैक्स करता है तथा रक्तसंचार को आसान बना देता है। इस प्रकार यह स्तम्भन में सहयोगी हैं।

सिपला इरेक्टेलिस 20mg के चिकित्सीय उपयोग Uses of Cipla Erectalis

  1. यह वयस्क पुरुषों (18-85 वर्ष) के द्वारा ली जा सकती है।
  2. यह उत्तेजना / कामेच्छा libido को नहीं बढ़ाती पर इरेक्शन होने में मददगार है।
  3. यह सेक्स पॉवर / इरेक्शन को ज्यादा देर तक रखती है।
  4. इसे स्तंभन दोष या इरेक्टाइल डिसफंक्शन ( संभोग के दौरान शिश्न / लिंग / जनेन्द्रिय के उत्तेजित न होने या उसे बनाए न रख सकने के कारण पैदा हुई यौन निष्क्रियता) में लिया जाता है।

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Cipla Erectalis

ध्यान दें, इस दवा में टडालाफिल की मात्रा 20mg है।

टडालाफिल की स्ट्रेंथ

  1. टडालाफिल को शुरुआत में 5 mg की स्ट्रेंथ में देते हैं।
  2. यदि इससे असर नहीं हो रहा है, इसकी 10 mg डोज़ या मैक्सिमम डोज़ 20 mg दे सकते हैं।
  3. यदि व्यक्ति को 20 mg टेबलेट से या 10 mg टेबलेट से अधिक साइड-इफेक्ट हो रहे हो तो दवा की मात्रा को 5 mg कर दिया जाता है।

नोट: यह प्रिस्क्रिप्शन ड्रग है।

  • इस दवा को दिन में एक बार, सेक्स से करीब आधा घंटा पहले लिया जाना चाहिए।
  • इसे दिन में एक बार ही लेना है।
  • एक बार से ज्यादा न लें। यह हानिकारक है।
  • इसे पानी के साथ निगल लें।
  • इसे लेने के बाद इसका असर 36 घंटे तक रहता है।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

कब प्रयोग न करें / Contraindications

  1. कोई भी नाइट्रेट मेडिकेशन (osorbide salts, sodium nitroprusside, amyl nitrite, nicorandil or organic nitrates), ले रहें हों तो इसका सेवन न करें। यह रक्तचाप को खतरनाक ढंग से कम देगा।
  2. अगर एनजाइना है, छाती में दर्द है, तो भी इसका सेवन नं करें।
  3. दिल की बिमारी है जिस कारण से सेक्स करने की मनाही है।
  4. पिछले 6 महीने में स्ट्रोक हुआ हो।
  5. लीवर की गंभीर बीमारी है।
  6. रक्तचाप नियंत्रित नहीं है।
  7. आखों के रोग nonarteritic anterior ischaemic optic neuropathy (NAION) retinitis pigmentosa में
  8. दवा में प्रयोग किसी भी घटक से एलर्जी है।

किन दवाओं के साथ टडालाफिल का इंटरेक्शन हो सकता है Drug Interactions?

  1. अल्फा ब्लॉकर के साथ इसका सेवन, रक्त चाप को बहुत घटा सकता है Co increased risk of hypotension with α-blockers
  2. इरेक्टाइल डिसफंक्शन की दूसरी दवाओं के साथ इसका सेवन पेनिस में तनाव को अधिक देर तक किये रखता है increased risk of priapism with other drugs for erectile dysfunction
  3. हृदय गति का बढ़ जाना theophylline
  4. रक्तचाप का खतरनाक ढंग से गिर जाना nitrates and nicorandil

डालाफिल का असर इन दवाओं के साथ कम हो जाता है Decreased Tadalafill serum concentration with CYP 3A4 inducers

  1. बार्बिटुरेट्स Barbiturates
  2. कार्बमाज़ेपिने Carbamazepine
  3. इफाविरेंज़ Efavirenz
  4. नेविरापिन Nevirapine
  5. फेनोबार्बिटल Phenobarbital
  6. फेनीटोइन Phenytoin
  7. रिबाबुटिन Ribabutin
  8. रिफामपिसिन Rifampicin

टडालाफिल का असर इन दवाओं के साथ बढ़ जाता है Increased Tadalafill serum concentration with CYP3A4 inhibitors

  1. अज़ोल एन्टिफन्गल्स Azole antifungals
  2. सिमेटिडिन Cimetidine
  3. मैरोलीड्स Macrolides
  4. प्रोटीज इनहिबिटर्स Protease inhibitors

कुछ संभावित गंभीर रिएक्शन Adverse drug reactions

  1. पीठ में दर्द Back pain
  2. आँखों में लाली Conjunctival hyperemia
  3. चक्कर आना Dizziness
  4. अपच Dyspepsia
  5. त्वचा का लाल हो कर छिलना / पील होना Exfoliative dermatitis
  6. आंख का दर्द Eye pain
  7. पसीना आना Flushing
  8. सरदर्द Headache
  9. मांसपेशियों में दर्द Myalgia
  10. नाक बंद Nasal congestion
  11. हृदय के लक्षण Severe cardiovascular events
  12. सुनाई न देना Sudden decrease or loss of hearing
  13. पलकों की सूजन Swelling of eyelids
  14. कान में आवाज़ आना Tinnitus
  15. देखने में दिक्कत Visual disturbances

भोजन का प्रभाव Food Interaction

ग्रेपफ्रूट के रस के साथ इसका असर बढ़ जाता है grapefruit juice तथा सेंट जोहन्स वोर्ट St John’s wort may के साथ इसका असर कम हो जाता है।

सावधनियाँ Cautions

  1. इस दवा को डॉक्टर की देख-रेख में ही लें।
  2. इसे बच्चों की पहुँच से दूर रखें।
  3. इसे ज्यादा मात्रा में न लें।
  4. इसे भोजन के साथ या खाली पेट लिया जा सकता है।

विशेष सावधानियाँ Special Precautions

तुरंत डॉक्टर से मिले यदि:

  1. पेनिस की बनावट में फर्क हो जाए
  2. इसे लेने बंद कर दें अगर देखने में कठिनाई हो, कान में आवाजें आये या कुछ दिखाई न दे।
  3. पेनिस में तनाव चार घंटे से ज्यादा रहे।
  4. लीवर या गुर्दे की समस्या में डॉक्टर से परामर्श करें।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*