मधु शून्य पाउडर के फायदे, नुकसान और प्रयोग

यह दवा एंटी-डायबिटिक औषधीय वनस्पतियों से निर्मित है और इसे डायबिटीज में रक्त में शुगर के लेवल को नियंत्रित करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह दवा पूरी तरह से हर्बल है और सुरक्षित है। इसे मधुमेह में एलोपैथी की दवाओं के साथ भी प्रयोग किया जा सकता है।

मधु शून्य पाउडर, एक आयुर्वेदिक हर्बल दवा है जो की मेघदूत ग्रामोद्योग सेवा संस्थान द्वारा निर्मित है। यह दवा एंटी-डायबिटिक औषधीय वनस्पतियों से निर्मित है और इसे डायबिटीज में रक्त में शुगर के लेवल को नियंत्रित करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह दवा पूरी तरह से हर्बल है और सुरक्षित है। इसे मधुमेह में एलोपैथी की दवाओं के साथ भी प्रयोग किया जा सकता है।

Meghdoot Madhu Shoonya Powder is an herbal medicinal powder prepared with anti-diabetic herbs and Shilajit. Its use helps in managing blood sugar level. Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

Loading...

मधु शून्य पाउडर के घटक | Ingredients of Madhu Shoonya Powder in Hindi

Composition: Each 100 gram contains

  • गुड़मार पत्र (Gymnema Sylvestre Leaf) 15 grams,
  • जामुन बीज (Syzygium Cuminii Seed) 15 grams,
  • विजयसार (Pterocarpus Marsupium Wood)15 grams,
  • करेला बीज (Momordica Charantia Seed)10 grams,
  • कुंदरू जड़ (Boswellia Floribunda Root)10 grams,
  • अश्वगंधा जड़ (Withania Somnifera Root) 10 grams,
  • नीम बीज मज्जा (Azadirachta Indica Seed) 10 grams,
  • तुलसी जड़ (Ocimum Basilicum Root) 9 grams,
  • गुड़हल पुष्प (Hibiscus Rosa-sinensis Flower) 5 grams,
  • शुद्ध शिलाजीत (Asphaltum) 1 ग्राम।

मधु शून्य पाउडर के लाभ | Benefits of Madhu Shoonya Powder in Hindi

  • यह दवा बढ़े हुए शर्करा के स्तर को कम करती है।
  • यह दवा अधिक पेशाब होना, मुंह सूखना, और अधिक प्यास लगना आदि लक्षणों में राहत देती है।
  • यह दवा हाथ-पैर में सुन्नता, सुई जैसी चुभन, कमजोरी आदि में लाभकारी है।

मधु शून्य पाउडर के चिकित्सीय उपयोग | Uses of Madhu Shoonya Powder in Hindi

इस दवा को Diabetes मधुमेह के उपचार में प्रयोग किया जाता है। मधुमेह वह रोग है जिसमें रक्त में ग्लूकोज या शुगर का स्तर सामान्य से अधिक हो जाता है। बढ़ा हुआ रक्त-शर्करा का स्तर शरीर में हर अंग को प्रभावित करता है। इसलिए यह अवाश्यक है की इसे नियंत्रित रखा जाये। मधु शून्य पाउडर पूरी तरह से प्राकृतिक है और इसका सेवन पूर्ण रूप से सुरक्षित है।

सेवन विधि और मात्रा | Dosage of Madhu Shoonya Powder in Hindi

  • मधु शून्य पाउडर को २ चाय के चम्मच में भर कर दिन में 2-3 बार लें।
  • इसे भोजन करने के पहले पानी के साथ लें।

You can buy this medicine online or from medical stores.

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.