गुर्दे की पथरी के लिए दिव्य अश्मरीहर रस – Divya Ashmarihar Ras

दिव्य अश्मरीहर रस (Divya Ashmarihar Ras) स्वामी रामदेव की दिव्य फार्मेसी में निर्मित आयुर्वेदिक दवा है। यह दवा मूत्रल और अश्मरी भेदक है । यह दवा मुख्य रूप से गुर्दे की पथरी के लिए उपयोगी है । दिव्य अश्मरीहर रस को यव क्षार, हजरूल यहूद भस्म, कलमी शोरा, मूली क्षार और श्वेत पर्पटी से बनाया गया है ।

Loading...

Divya Ashmarihar Ras is herbomineral Ayurvedic medicine from Swami Ramdev’s Divya pharmacy. It is a medicine to treat stones, urinary infection, and urinary problems. It has diuretic properties due to which it helps in elimination of stones and toxins from body. Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi.

घटक Ingredients of Divya Ashmarihar Ras

प्रत्येक 1 ग्राम में :

यव क्षार Yavkshar पोटेशियम कार्बोनेट 350 मिलीग्राम

हज्रूल यहूद भस्म Hazrool-yahood Bhasm 200 मिलीग्राम

कलमी शोरा एल्यूमीनियम क्लोराइड 50 मिलीग्राम

मूली क्षार 250 मिलीग्राम

श्वेत पर्पटी 150 मिलीग्राम

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

दिव्य अश्मरीहर रस में मूत्रवर्धक गुण है जिससे यह शरीर से मूत्राशय की पथरी के उन्मूलन में मदद करता है ।

यह दवा गुर्दे में दर्द और सूजन में राहत देती है।

जो बार-बार होने वाली पथरी की समस्या से ग्रस्त है उन्हें कुछ हफ्तों के तक यह दवा लेनी चाहिए।

यह दवा पेशाब में जलन में आराम देती है।

दिव्य अश्मरीहर रस को गुर्दे की पथरी, गुर्दे की सुजन, मूत्र समस्याओं, यूटीआई या मूत्र पथ के संक्रमण आदि में दिया जाता है

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage

1-2g सुबह खाली पेट और दोपहर के खाने के ५-६ घंटे बाद खाली पेट ले। इसे अश्मरीहर काढ़े या ताजे पानी के साथ लें.

loading...

One thought on “गुर्दे की पथरी के लिए दिव्य अश्मरीहर रस – Divya Ashmarihar Ras

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*