क्षुधाकारी वटी Kshudhakari Vati Detail and Uses in Hindi

क्षुधाकारी वटी या बटी, एक आयुर्वेदिक दवाई है जो की नींबू, त्रिकुटा, अकरकरा, शुद्ध टंकण आदि से बनी है। इस दवा को मुख में रख कर चूसने से क्षुधा बढ़ती है। यह क्षुधा कारी है मतलब भूख को बढ़ाती है।

Arthritis | आर्थराइटिस (गठिया) जानकारी, दवाएं और खान-पान

आर्थराइटिस आजकल आम है और करीब 100 से अधिक विभिन्न प्रकार के आर्थराइटिस और संबंधित बीमारियाँ हैं। किसी भी उम्र, लिंग के लोग आर्थराइटिस के शिकार हो सकते हैं। इससे प्रभावित लोगों में महिलाओं और अधिक उम्र के लोगों की

Nauli Yoga Exercise नौली जानकारी, लाभ और सावधानियां

नौली व्यायाम को न्यौली और लौलि नाम से जाना जाता है। इसे करते समय नाभि के पास नली जैसा आकार उभरता है। यह व्यायाम पेट के लिए बहुत लाभप्रद है। इस व्यायाम के सही अभ्यास से पेल्विक और पेट के

नेत्र सुदर्शन अर्क Netra Sudarshan Ark Eye Drops Detail and Uses in Hindi

नेत्र सुदर्शन अर्क, एक आई ड्राप है। इसे आँखों में किसी भी अन्य ऑय ड्राप की तरह डाला जाता है। इसमें पलाश की जड़ का अर्क है। यह ड्रॉप्स आँखों की सभी तरह की सामान्य बिमारियों में फायदेमंद है। यह

डेपॉक्सेटिन Dapoxetine tablet Detail and Uses in Hindi

डेपॉक्सेटिन एक ऐलोपथिक प्रिसक्रिप्शन ड्रग (डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन पर मिलने वाली ) है। यह दवा केवल पुरुषों के लिए है और बेटर इरेक्शन पाने में मदद करती है। डेपॉक्सेटिन को इरेक्टाइल डिसफंक्शन / स्तम्भन दोष या नपुंसकता में लिया जाता

कुतुब 30 एक्स Kutub 30X Detail and Uses in Hindi

कुतुब 30 एक्स एक ऐलोपथिक दवाई जो की प्रिसक्रिप्शन ड्रग (डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन पर मिलने वाली ) है। यह दवा केवल पुरुषों के लिए है और बेटर इरेक्शन पाने में मदद करती है। कुतुब 30 एक्स को इरेक्टाइल डिसफंक्शन /

साइलेक्स कैप्सूल Sillax Detail and Uses in Hindi

साइलेक्स कैप्सूल, मैपल ओवेरसीस द्वारा निर्मित दवाई है। यह दवा आयुर्वेद के वाजीकारक द्रव्यों से निर्मित है और पुरुषों में यौन समस्याओं में प्रयोग की जा सकती है। इस दवा का प्रमुख द्रव्य अश्वगंधा है। इसके अतिरिक्त इसमें अकरकरा, मूसली,

मुसली सूत्र कैप्सूल Musli Sutra Detail and Uses in Hindi

मुसली सूत्र कैप्सूल, आयुर्वेद के सिद्धांतों पर आधारित एक दवाई है जो की मुख्य रूप से पुरुषों के लिए है लेकिन महिलायें भी इसका सेवन कर सकती हैं। यह शक्तिवर्धक, जोश वर्धक, और वाजीकारक औषधि है। इसके सेवन से प्रजनन

सोमराजी तेल Somraji Tail (Oil) Detail and Uses in Hindi

सोमराजी तैल, एक आयुर्वेदिक औषधीय तेल है। इसे भैषज्य रत्नावली के कुष्ठरोगाधिकार से लिया गया है। इस दवा में मुख्य घटक सोमराजी है। इसके अतिरिक्त इसमें हल्दी, दारुहल्दी, सफ़ेद सरसों, कूठ, करंज, चक्रमर्द, अमलतास के पत्ते और सरसों का तेल

रोग़न बनफशा Roghan Banafsha Detail and Uses in Hindi

रोग़न बनफशा, एक यूनानी दवा है। रोग़न तेल को कहते हैं। इसमें मुख्य द्रव्य बनफशा होने से इसे रोग़न बनफशा या बनफशा का तेल कहते हैं। रोग़न बनफशा को सिर पर लगाने के लिए प्रयोग किया जाता है। इससे मालिश