सुपारी पाक Supari Pak in Hindi

loading...

सुपारी पाक एक पौष्टिक nutritive tonic दवा है। यह अत्यंत गुणकारी औषध जो की स्त्री और पुरुष दोनों के लिए लाभप्रद है। इसके सेवन से प्रदर vaginal discharges in female नष्ट होता है और संतान होने की संभावना बढ़ती है। स्त्रियों के लिए तो यह दवा अमृत-तुल्य है। सुपारी पाक, प्रसव के बाद एक गर्भाशय टॉनिक uterine tonic के रूप में प्रयोग किया जाता है।

यह एक टॉनिक है जो प्रदर, बेचैनी, पीठ में दर्द, सामान्य शारीरिक कमजोरी, चेहरे का पीलापन खून की कमी, शारीरिक थकान आदि महिला रोगों में लाभदायक है। यह पुरुषों के लिए भी लाभदायक है और उनमें नर्व की कमजोरी, फर्टिलिटी की कमी, शीघ्रपतन premature ejaculation, शुक्रमेह spermatorrhoea (वीर्य का अपने आप निकल जाना) आदि रोगों में अच्छे परिणाम देता है।

सुपारी पाक के घटक Ingredients of Supari pak (Baidyanath)

कपूर, तज, तेजपत्ता, मोथा, सुखा पुदीना, पिप्पली, खुरासानी अज्वैन, छोटी इलाइची, तालिसपत्र, वंशलोचन, जावित्री, सफ़ेद चन्दन, काली मिर्च, जायफल, सफ़ेद जीरा, बिनौले की गिरी, लौंग, सुखा धनिया, पिप्पला मूल, नेलोफेर के फूल, सुखा सिंघाड़ा, शतावर, नागकेशर, किरनी के बीज, बादाम, पिस्ता, मुनक्का और सुपारी।

सुपारी पाक के लाभ Benefits of Supari Paak

  • स्त्रियों में इसके सेवन से गर्भाशय को ताकत मिलती है।
  • प्रसव के बाद इसके सेवन से शरीर को बल मिलता है और योनी संकुचित contraction of vagina होती है।
  • स्त्रियों में कमर, पीठ, गर्दन, सिर, हाथ-पैर, के दर्द में सुपारी पाक का कुछ समय तक सेवन अच्छे परिणाम देता है।
  • पुरुषों में इसके सेवन से शीघ्रपतन, शुक्रमेह रोग नष्ट होते हैं।
  • यह पाचन शक्ति में वृध्दि कर शरीर को बल देती है।
  • यह लीवर की कमजोरी weakness of liver को दूर करती है।
  • सुपारी पाक का सेवन शरीर में स्फूर्ति, बल, वर्ण, कान्ति की वृद्धि करता है।

मात्रा और अनुपान

  • 12 ग्राम से 24 ग्राम दिन में दो बार लें।
  • इसे गो-दुग्ध या जल के साथ लें।
  • इसे पाचन शक्ति, दोष, कोष्ठ और बलानुसार लेना चाहिए।

You can buy this medicine online or from medical stores.

This medicine is manufactured by Hamdard, Baidyanath, Dabur, and many other Ayurvedic pharmacies.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*