Punarnavasava पुनर्नवासव Details and Uses in Hindi

loading...

पुनर्नवासव (Punarnavasavam) एक आयुर्वेदिक दवा है जिसमे त्रिकटु, त्रिफला, पुनर्नवा, तथा अन्य बहुत सी जड़ी-बूटियां होती हैं। यह दवा मुख्यतः जलशोफ dropsy और यकृत-विकार के उपचार में मदद करती है। पुनर्नवासव शरीर में पानी भर जाने/स्थानीय शोफ local or generalized edema, सूजन, आँखों पर सूजन Puffiness of eye-lids के इलाज में उल्लेखनीय रूप से उपयोगी है। यह दवा जिगर और तिल्ली के विकारों के उपचार में बहुत अच्छे परिणाम देती है।

Punarnavasavam is a polyherbal Ayurvedic formulation containing Punarnava Root Extract. This medicine is indicated in treatment of inflammatory conditions.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

नीचे इस दवा के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है।

पुनर्नवासव के घटक Ingredients

Shothaghni (Punarnava) पुनर्नवा Boerhaavia diffusa Rt. 16 g

  • Marica काली मिर्च Piper nigrum Fr. 16 g
  • Pippali पिप्पली Piper longum Fr. 16 g
  • Haritaki हरीतकी Terminalia chebula Fr.P 16 g
  • Bibhitaka विभितकी Terminalia belerica Fr.P 16 g
  • Amalaki आमलकी Emblica officinalis. Fr.P 16 g
  • Darvi (Daruharidra) दारुहल्दी Berberis aristata St. 16 g
  • Gokshura गोखरू Tribulus terrestris Fr. 16 g
  • Brihati बृहती Solanum indicum Rt. 16 g
  • Kantakari कंटकारी Solanum xanthocarpum Pl. 16 g
  • Vasamula (Vasa) वासा Adhatoda vasica Rt. 16 g
  • Erandamula (Eranda) एरंड Ricinus communis Rt. 16 g
  • Katuka कटुकी Picrorrhiza kurroa Rt./Rz. 16 g
  • Gajapippali गजपिप्पली Scindapsus officinalis Fr. 16 g
  • Shunthi सोंठ Zingiber officinale Rz. 16 g
  • Picumarda (Nimba) नीम Azadirachta indica St. Bk. 16 g
  • Guduci Tinospora गिलोय cordifolia St. 16 g
  • Shushka Mulaka (Mulaka) मूली Raphanus sativus Rt. 16 g
  • Duralabha दुर्लभा Fagonia cretica Rt. 16 g
  • Patola परवल Trichosanthes dioica Lf. 16 g
  • Dhataki धातकी Woodfordia fruticosa Fl. 256 g
  • Draksha मुनक्का Vitis vinifera Dr. Fr. 320 g
  • Sita चीनी Sugar 1.6 kg
  • Makshika (Madhu) शहद Honey 800 g
  • Jala पानी

Lf. =Leaf; P. =Pericarp; Rt. =Root; Fr. =Fruit; Rz. =Rhizome; St. =Stem; Fl. Bd. =Flower Bud.

loading...

पुनर्नवासव के मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

  • पुनर्नवासव के लाभ Benefits of Punarnavasava
  • लिवर रोग में प्रभावी
  • लिवर की सुरक्षा करता है
  • मूत्रवर्धक Diuretic
  • सूजन कम करता है
  • यह उचित पित्त प्रवाह में मदद करता है
  • यह यकृत की कोशिकाओं की रक्षा करता है।

यह मूत्रवर्धक होने के कारण शोफ और जलोदर में शरीर के बाहर अतिरिक्त तरल पदार्थ उत्सर्जित करने में मदद करता है ।

पुनर्नवासव के चिकित्सीय उपयोग

  • शोथ या सूजन
  • जलोदर Ascites
  • सिरोसिस, हेपेटाइटिस
  • यकृत के विकार, liver diseases
  • तिल्ली का बढ़ना Enlargement of spleen
  • जठरशोथ, एसिडिटी Hyperacidity
  • पेट फूलना Flatulence
  • पेट में ट्यूमर Gulma
  • बुखार
  • पुराने दुसाध्य विकारों में

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage

  • इस दवा को 12-24 ml की मात्रा में लिया जाना चाहिये।
  • इसे दिन में दो बार, सुबह और शाम पानी की बराबर मात्रा मिला कर लेना है।
  • इसे भोजन करने के बाद लिया जाना चाहिये।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

This medicine is manufactured by Sandu, Shree Dhootapapeshwar Limited Punarnavasav, Vaidyaratnam Punarnavasavam, Kerala Ayurveda Punarnavasavam, Kottakkal Punarnavasavam, Pankajakasthuri Herbals India Punarnavasavam and some other pharmacies.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*