Panchatikta Ghrita Guggulu पंचतिक्त घृत गुग्गुल Details and Uses in Hindi

loading...

Panchatikta Ghrita Guggulu is a polyherbal Ayurvedic formulation. This medicine is useful in skin diseases and variety of diseases.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

पंचतिक्त घृत गुग्गुल एक आयुर्वेदिक दवा है। यह दवा, पांच तिक्त/कडवी वनस्पतियों, घी, गुग्गुल और कई अन्य अवयवों से तैयार की जाती है। ये पांच कडवी वनस्पतियों हैं: नीम, पटोल, कंटकारी, वासा, और गिलोय। पंचतिक्त घृत गुग्गुल वात, पित्त और कफ को संतुलित करता है। यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है। यह दवा त्वचा रोगों के इलाज के लिए विशेष रूप से उपयोगी है।

गुग्गुल भारत में पाए जाने वाले पेड़ कोमिफोरा मुकुल, पेड़ की गोंद से बनाया जाता है। इस पेड़ का सदियों से आयुर्वेदिक चिकित्सा में इस्तेमाल किया जाता है।

गुग्गुल को धमनियों का सख्त होने (atherosclerosis), मुँहासे और अन्य त्वचा रोग, वजन घटाने के लिए, उच्च कोलेस्ट्रॉल कम करने, और गठिया के ईलाज लिए प्रयोग किया जाता है।

गुग्गुल में ऐसे पदार्थ पाए जाते हैं जो की कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करते हैं। ये पदार्थ मुँहासे के कुछ प्रकार में सूजन को कम करते हैं।

loading...

गुग्गुल में सूजन कम करने और जोड़ों के सही काम करने में मदद करने के गुण भी होते हैं और इसका प्रयोग गठिया, आर्थराइटिस, आदि जोड़ों के विकार में होता है।

नीचे पंचतिक्त घृत गुग्गुल के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है.

घटक Ingredients

Sr. No

Name

In Hindi

Part Used

Quantity

1.

Nimba

नीम की छाल

Stem Bark

480 g

2.

Guduchi

गिलोय

Stem

480 g

3.

Vasa

वासा वृष

Root

480 g

4.

Patola

पटोल पत्र

Leaf/Plant

480 g

5.

Kantakari

कटेली कंटकारी

Plant

480 g

6.

Water

पानी

for decoction

12.288 l reduced to 3.072 l

7.

Ghrita

गाय का घी

Goghrita

768 g

8.

Patha

पाठा

Root

12 g

9.

Vidanga

विडंग’

Fruit

12 g

10.

Suradaru Devadaru

देवदारु

Ht. Wd.

12 g

11.

Gajapakulya Gajapippali

गज पिप्पली

Fruit

12 g

12.

Yavakshara Yava

यवक क्षार

Plant

12 g

13.

Sarji Kshara Svarjikshara

सज्जी क्षार

 

12 g

14.

Sunthi

सोंठ

Rhizome

12 g

15.

Nisha Haridra

हल्दी

Rhizome

12 g

16.

Mishriya

सौंफ

Fruit

12 g

17.

Cavya

चव्य

Stem

12 g

18.

Kushtha

कूठ

Root

12 g

19.

Tejovati

मालकांगनी

Fruit

12 g

20.

Marica

काली मिर्च

Fruit

12 g

21.

Vatsaka Kutaja

कुटज

Stem Bark

12 g

22.

Dipyaka Yavani

अजवायन

Fruit

12 g

23.

Agni Citraka

चित्रक

Root

12 g

24.

Rohini Katuka

कुटकी

Root/Rhizome

12 g

25.

Arushkara Bhallataka -Suddha

शुद्ध भिलावा

Fruit

12 g

26.

Vaca

वृष

Rhizome

12 g

27.

Kanamula Pippali

पिप्पली

Root

12 g

28.

Yukta Rasna

रसना

Root/Lf

12 g

29.

Manjishtha

मंजीठ

Root

12 g

30.

Ativisha

अतिविश

Root Tuber

12 g

31.

Vishani Ativisha bheda

अतीस

Root

12 g

32.

Yavani

यवनी

Fruit

12 g

33.

Guggulu Suddha

गुग्गुलु

Exd

240 g

मुख्य गुणधर्म और उपयोग Qualities and therapeutic uses

फायदे

  • यह रक्त को शुद्ध करता है और शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है।
  • यह पाचन में सुधार करता है।
  • त्वचा रोगों और घावों के इलाज में मददगार है।
  • वात, पित्त और कफ की ख़राबी की वजह से होने वाली बीमारियों के इलाज में कारगर।
  • यह यकृत को उत्तेजित करता है।
  • यह आंतरिक स्नेहन oleation में मदद करता है।

चिकित्सीय उपयोग

  • संधिगत वात (Osteoarthropathy), अस्थिगत वात (वात हड्डियों तक ही सीमित), मज्जागत वात (अस्थि मज्जा से संबंधित विकार)
  • वाट रक्त (गठिया)
  • नदिव्रण (Fistula), भगंदर (Fistula-in-ano)
  • अर्बुद (Tumor), वृध्धि (Abscess), गण्डमाला (Cervical lymphadenitis)
  • कुष्ठ (Diseases of skin), सिर और गर्दन के रोग
  • गुदा रोग (Anorectal disease), मेह (Excessive flow of urine)
  • यक्षमा (Tuberculosis), अरुचि (Tastelessness)
  • अस्थमा (Dyspnoea/Asthma), पिनास (Chronic rhinitis/sinusitis), कास (Cough)
  • शोथ (Oedema), हृदय रोग (Heart disease), पंडू (Anaemia), पागलपन (Intoxication)

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage

6-12 grams, दिन में दो बार, गाय के दूध या पानी के साथ।

Where to buy

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*