कांकायन वटी (अर्श) Kankayan Vati (Arsh) Detail and Uses in Hindi

loading...

कांकायन वटी (अर्श) एक हर्बल आयुर्वेदिक औषधि है जिसे भैषज्य रत्नावली के अर्शरोगाधिकार से लिया गया है। यह दवा अर्श या पाइल्स के उपचार में प्रयोग की जाने वाली एक प्रसिद्ध औषधि है। इसमें प्रयोग की गई औषधीय वनस्पतियाँ पाचन शक्ति में सुधार करती हैं, दर्द में राहत देती हैं और वात या वायु को शरीर में नीचे की तरह जाने को प्रेरित करती हैं। हरीतकी के प्रभाव से कब्ज़ से आराम मिलता है जिससे मोशन आसान होती है और गुदा पर दबाव नहीं पड़ता। सूरण में अर्शोघ्न गुण पाए जाते है। यवक्षार मृदु विरेचक, दीपन, रक्तशोधक और पेट के एसिड को कम करने वाला है।

Kankayan Vati (Arsh) is a polyherbal Ayurvedic medicine prepared from Pippali, Haritaki, Pippalimula, Suntha, Chavya, Chitrak, Surankanda, Ajaii, Bhallatak, Yavakshar. This medicine is indicated in treatment of piles (dry and bleeding). Here is given more about this medicine, such as indication/therapeutic uses, Key Ingredients and dosage in Hindi language.

कांकायन वटी (अर्श) के घटक Ingredients of Kankayan Vati (Arsh)

  • हरीतकी की छाल Haritaki bark 5 parts
  • पिप्पली Pippali/long pepper 1 parts
  • काली मिर्च Kali mirch/Black pepper 1 part
  • सफ़ेद जीरा shweta jirak/White cumin 1 part
  • पिप्पलामूल Pippalamula/Root of pippali plant 2 parts
  • चव्य Chavya 3 parts
  • चित्रकमूल Chitrak mula 4 parts
  • सोंठ Sunthi/dry ginger powder 5 parts
  • शुद्ध भिलावा Bhallataka/Shuddha Bhilava 8 parts
  • जिमीकंद Surankanda/Jimikand 16 parts
  • यवक्षार Yavakshar 2 parts
  • गुड़ Guda: द्विगुन (96 parts)

कांकायन वटी (अर्श) के लाभ Benefits of Kankayan Vati (Arsh)

  • यह कब्ज़ constipation से राहत देती हैं।
  • यह ब्लीडिंग bleeding को रोकती है।
  • यह अर्शोघ्न वनस्पतियों से बनी है।
  • यह दीपन, पाचन, उष्ण, और वातअनुलोमना है।
  • यह अपने उष्ण hot और तीक्ष्ण गुणों के कारण रक्त के प्रवाह में होने वाले गतिरोध removes obstructions from blood को दूर करती है।
  • यह गुदा क्षेत्र में सूजन और दर्द में राहत देती है।

कांकायन वटी (अर्श) के चिकित्सीय उपयोग Uses of Kankayan Vati (Arsh)

कांकायन वटी (अर्श) को खूनी और बादी बवासीर dry and bleeding piles के उपचार में प्रयोग किया जाता है। इसके सेवन से पाइल्स के मस्से सूख जाते हैं। पाचन और शरीर से मल का निष्काषन सही प्रकार से होता है।

इस दवा का सेवन कब्ज़ या कोष्टबद्धता ठीक होती है। यह पाचन की कमजोरी को दूर करती है और शरीर में आम का संचय नहीं होने देती।

सेवन विधि और मात्रा Dosage of Kankayan Vati (Arsh)

  • 2-4 गोली/१ गर्म से २ ग्राम, दिन में दो बार लें।
  • इसे मठ्ठे/छाछ के साथ २-३ महीने रोज़ लें।
  • या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

इस दवा को ऑनलाइन या आयुर्वेदिक स्टोर से ख़रीदा जा सकता है।

You can buy this medicine online or from medical stores.

loading...

This medicine is manufactured by Baidyanath (Kankayan Bati (Arsh)) and some other Ayurvedic pharmacies.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*