Divya Sarvkalp Kwath- दिव्य सर्वकल्प क्वाथ

loading...

Divya Sarvkalp Kwath is an Ayurvedic medicine from Swami Ramdev’s Divya pharmacy. It is a medicine to treat diseases of liver. This decoction is a liver tonic that detoxifies liver, gives it strength and helps in recovery and proper functioning of liver. Here information is given about complete list of ingredients, properties, benefits, uses and dosage of this medicine in Hindi language.

दिव्य सर्वकल्प क्वाथ, स्वामी रामदेव की पतंजलि दिव्य फार्मेसी में निर्मित आयुर्वेदिक दवा है। दिव्य सर्वकल्प क्वाथ, यकृत/जिगर/लिवर के लिए प्राकृतिक जड़ी बूटियों से बनी एक आयुर्वेदिक दवा है। यह यकृत को detoxify करने में तथा विभिन्न यकृत रोगों के उपचार में मदद करती है।

यकृत शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है। यह शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि है जो पित्त (Bile) का निर्माण करती है तथा भोजन के पाचन, और उपापचय (metabolism) में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यकृत के काम को तीन भागो में बाँटा जा सकता है:- शर्करा का संचय और इस्तेमाल; पित्त का निर्माण; और वसाओं और प्रोटीनों को संसाधित करने में मदद करना। परन्तु रोग की स्थिति में ये सब काम प्रभावित हो जाते हैं। जिगर की बीमारी को ही यकृत रोग कहा जाता है।

सर्वकल्प क्वाथ के सेवन से पीलिया jaundice, यकृत की वृद्धि enlargement of liver, मूत्राल्प्ता scanty urination, भूख न लगना low appetite आदि विकार दूर होते हैं।

नीचे इस दवा के घटक, गुण, सेवनविधि, और मात्रा के बारे में जानकारी दी गयी है।

घटक Ingredients of Sarvkalp Kwath

प्रत्येक 5.00 ग्राम शामिल हैं:

loading...
 

हिंदी नाम

लैटिन नाम

मात्रा

1

पुनर्नवा

Boerhaavia diffusa

2.50 ग्राम

2

भूमि आमला

Phyllanthus niruri

1.25 ग्राम

3

मकोय

Solanum nigrum

1.25 ग्राम

Punarnava पुनर्नवा

पुनर्नवा या Boerhaavia diffusa मानव रोगों के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला, प्रसिद्ध औषधीय पौधा है. आयुर्वेद, यूनानी और सिद्धा चिकित्सा पद्यति में इसका प्रयोग बहुत प्राचीन समय से होता आया है. पुनर्नवा के औषधीय के प्रयोग के लिए पूरे पौधे का इस्तेमाल होता है.

यह एंटी बैक्टीरियल, लीवर की रक्षा के लिए विशेष उपयोगी, सूजन कम करने वाला, हाइपो-ग्लाइसेमिक, और अपच के उपचार में, पेट में दर्द, सूजन, पीलिया, तथा अन्य यकृत रोगों को ठीक करने में वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित है.

Bhumi amla भूमि आमला

भूमि आमला Phyllanthus niruri भी यकृत रोगों के लिए बहुत ही उपयोगी पौधा है। दवाई की तरह इसके पत्ते, जड़, पूरा पौधा, इस्तेमाल होता है। यह प्लाज्मा, रक्त, वसा, पाचन, प्रजनन, मूत्र, और यकृत पर काम करता है। यह यकृत रोगों के लिए मुख्य जड़ी है। इसका चिकित्सीय प्रयोग सूजन, सूजाक, मूत्र रोगों, पेचिश, मधुमेह, अपच और पीलिया के लिए होता है ।

मकोय

मकोय Solanum nigrum का प्रयोग, बवासीर, त्वचा रोग, सूजाक, सूजन, बुखार, बढ़े हुए प्लीहा और जिगर में होता है. यह भी लिवर की रक्षा करने वाली, सूजन कम करने वाली, मूत्रवर्धक और ज्वरनाशक है.

मुख्य गुणधर्म, लाभ और उपयोग Qualities, benefits and therapeutic uses

सर्वकल्प क्वाथ, लिवर की विभिन्न समस्याओं में एक उत्कृष्ट जिगर टॉनिक के रूप में सहायता करता है। जो लोग लम्बे समय से जिगर की समस्याओं से पीड़ित हैं वे भी इसका प्रयोग कर सकते हैं।

दिव्य सर्वकल्प क्वाथ के लाभ

  • यह एक उत्कृष्ट जिगर टॉनिक है। liver tonic, supports liver function, helps in regeneration of liver cells.
  • पीलिया में फायदेमंद है और पीलिया से जल्दी ठीक होने में मदद करता है। useful for patients suffering and recovering from Jaundice
  • शराब के अत्यधिक सेवन से जिगर की सिरोसिस liver cirrhosis से पीड़ित लोगों के लिए उपयोगी है।
  • किसी भी तरह के हेपेटाइटिस all kind of hepatitis से पीड़ित लोगों के लिए उपयोगी है।
  • यह जिगर के जल्दी ठीक होने में मदद करता है।
  • यह पित्त का सामान्य स्राव करा पाचन कार्य में सुधार लता है ।

सेवनविधि और मात्रा How to take and dosage

  • 5 ग्राम की मात्रा में सूखे मिश्रण को 400 मिलीलीटर पानी में उबालें जब पानी 100 मिलीलीटर रह जाये, इसे छान कर पियें।
  • इसे दो बार लेना है।
  • सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले ।
  • आप दस दिनों तक लगातार इसका सेवन कर सकते हैं। लेकिन इसके बाद कुछ समय का अन्तराल अवश्य दें।

Where to buy

आप यह दवा पतंजलि स्टोर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*