दिव्य कायाकल्प तैल – Divya Kayakalp Taila

loading...

Divya Kayakalp Taila is poly-herbal Ayurvedic proprietary medicine from Yog Guru Baba Ramdev\’s Patanjali Divya Pharmaceuticals. It is a medicated oil that is used in all types of skin-disease e.g. dryness, rashes, ring-worm, itching, eczema, leucoderma, psoriasis, urticaria, freckles, skin allergy, sun-burning etc. Kayakalp taila contains Go mutra which is scientifically proven to treat skin diseases due to its antimicrobial properties. Due to presence of sesame oil, the oil treats the dryness of skin. Bakuchi beej, Panvad beej, haldi etc. makes it useful in leucoderma and psoriasis. This oil can be applied in almost all kind of skin diseases and should be kept in every home.

Here information is given about complete list of ingredients, properties, uses of this medicine in Hindi.

दिव्य कायाकल्प तैल स्वामी रामदेव की पतंजलि दिव्य फार्मेसी में निर्मित आयुर्वेदिक दवा है। यह एक औषधिय तेल है जिसमे तिल का तेल और गो मूत्र प्रमुख घटक हैं। इसके आलवा इसमें बावची, पनवाड़ और करंज के बीज, नीम और खैर की छाल, हल्दी और दारू हल्दी, चन्दन, आदि जैसी हेर्ब्स मौजूद है जो चमड़ी रोगों में बहुत प्रभावशाली है। इस तेल को लगभग सभी तरह की चमड़ी की बिमारियों में इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस दवा के घटक, गुण, उपयोग की विधि के बारे में जानकारी दी गयी है।

कायाकल्प तैल की घटक सामग्री

प्रत्येक 5 मिलीलीटर निम्नलिखित शामिल हैं: –

0.1 ग्राम प्रत्येक: बाकुची के बीज, पनवाड़ के बीज, दारू हल्दी, हल्दी, खैर की छाल, करंज के बीज, नीम छाल, आमला, हरीतकी, और बहेड़ा, मंजिष्ठा, अमृता (गिलोय), चिरायता, कुटकी, इन्द्रायण मूल, सफ़ेद चंदन, देवदारु, कृष्णा-जीरा, उष्बा, द्रोण पुष्पी, और सत्यानाशी, गो मूत्र, तिल का तेल पर्याप्त मात्रा में।

loading...

मुख्य गुणधर्म और उपयोग

कायाकल्प तैल एक औषधीय तेल है जिसे विभिन्न त्वचा रोगों के इलाज के लिए त्वचा पर बाहरी रूप से लगाया जाता है।

यह एक्जिमा, दाद, खाज, खुजली, सोरायसिस, सफेद दाग, शीत पित्ती, त्वचा एलर्जी, सूरज से त्वचा जलने, चकत्ते, और कई अन्य त्वचा की समस्याओं में उपयोगी है।

यह हाथ, पैरों के फटने, जलने, घाव, खुजली, आदि पर भी प्रभावी है।

उपयोग विधि

यह तेल केवल बाहरी उपयोग के लिए ही है। कायाकल्प तैल प्रभावित त्वचा पर दिन में दो-तीन बार लगाया जाना चाहिए।

कहां से खरीदें

आप यह दवा पतंजलि स्टोर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*